क्रिप्टोकरेंसी क्या है?

अंतर-मंत्रिस्तरीय समिति ने निजी क्रिप्टोकरेंसी पर प्रतिबन्ध लगाने की सिफारिश की

क्रिप्टोकरेंसी तथा ब्लॉकचेन की वैधता का विश्लेषण करने के लिए गठित अंतर-मंत्रिस्तरीय समिति ने हाल ही में अपनी रिपोर्ट वित्त मंत्री को सौंप दी है, इस अमिति ने देश में निजी क्रिप्टोकरेंसी पर प्रतिबन्ध लगाने की सिफारिश की है। इस समिति ने Banning of Cryptocurrency & Regulation of Official Digital Currency Bill, 2019 नामक कानून का मसौदा भी तैयार किया है। इसमें 10 वर्ष कारावास की सजा तथा जुर्माने का प्रावधान है। इस समिति की अध्यक्षता आर्थिक मामले सचिव सुभाष चन्द्र गर्ग द्वारा की गयी। इस ड्राफ्ट में कहा गया है कि क्रिप्टोकरेंसी माइनिंग, उत्पादन, खरीद-फरोख्त करने वाले व्यक्ति को 1 से 10 वर्ष के कारावास की सजा दी जा सकती है।

क्रिप्टोकरेंसी क्या है?

क्रिप्टोकरेंसी एक प्रकार की डिजिटल मुद्रा है। यह मुद्रा भौतिक रूप में उपलब्ध नहीं होती, यह केवल आभासी मुद्रा (वर्चुअल करेंसी) है। इसका उपयोग लेन-देन के लिए किया जाता है। इसके लिए ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का उपयोग किया जाता है। बिटकॉइन, इथीरियम, रिप्पल, लाइटकॉइन इत्यादि कुछ प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी हैं। बिटकॉइन को विश्व की पहली क्रिप्टोकरेंसी माना जाता है, इसकी शुरुआत वर्ष 2009 में हुई थी।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

फेसबुक ने “लिब्रा” नामक क्रिप्टोकरेंसी की घोषणा की

फेसबुक ने हाल ही में “लिब्रा” नामक क्रिप्टोकरेंसी की जानकारी साझा की है, इसे औपचारिक रूप से 2020 में लांच किया जायेगा।

लिब्रा

इसकी सहायता से लोग धन का आदान-प्रदान कर सकते हैं अथवा वस्तुएं खरीद सकते हैं। यूजर ऑनलाइन लिब्रा की खरीद-फरोख्त कर सकते हैं। इसका व्यय थर्ड पार्टी वॉलेट अथवा फेसबुक के वॉलेट “कैलिब्रा” पर किया जा सकता है। इस क्रिप्टोकरेंसी को लांच करने का उद्देश्य एक सरल वैश्विक मुद्रा प्रस्तुत करना है।

क्रिप्टोकरेंसी क्या है?

क्रिप्टोकरेंसी एक प्रकार की डिजिटल मुद्रा है। यह मुद्रा भौतिक रूप में उपलब्ध नहीं होती, यह केवल आभासी मुद्रा (वर्चुअल करेंसी) है। इसका उपयोग लेन-देन के लिए किया जाता है। इसके लिए ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का उपयोग किया जाता है। बिटकॉइन, इथीरियम, रिप्पल, लाइटकॉइन इत्यादि कुछ प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी हैं। बिटकॉइन को विश्व की पहली क्रिप्टोकरेंसी माना जाता है, इसकी शुरुआत वर्ष 2009 में हुई थी।

फेसबुक

फेसबुक विश्व की सबसे बड़ी सोशल नेटवर्किंग कंपनी है, व्हाट्सएप्प और इन्स्टाग्राम इसकी सब्सिडियरी हैं। फेसबुक की स्थापना 4 फरवरी, 2004 को की गयी थी। इसके सह- संस्थापक मार्क जकरबर्ग, एदुआर्दो सेवरिन, एंड्रू मैककॉलम, डस्टिन मोस्कोवित्ज़ और क्रिस ह्यूज़ हैं। फेसबुक का मुख्यालय अमेरिका के कैलिफ़ोर्निया के मेनलो पार्क में स्थित है। जनवरी 2018 के आंकड़ों के अनुसार फेसबुक के लगभग 2.2 अरब यूजर हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

Advertisement