गूगल

अमेरिकी कंपनी अल्फाबेट का मार्केट कैप 1 खरब डॉलर के पार पहुंचा

विश्व की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक, अल्फाबेट का मार्केट कैप एक खरब डॉलर के पार पहुँच गया है, अल्फाबेट इस उपलब्धि को पार करने वाली चौथी अमेरिकी कंपनी है। वर्तमान में अल्फाबेट के स्टॉक की कीमत 1,451.70  डॉलर है। इससे पहले एप्पल ने 2018 में एक ख़रब डॉलर के मार्केट कैपिटलाइजेशन का आंकड़ा पार किया था, अमेज़न ने सितम्बर 2018 में तथा माइक्रोसॉफ्ट ने अप्रैल 2019 एक खरब डॉलर मार्केट कैपिटलाइजेशन का आंकड़ा पार किया था।

2007 में पेट्रोचाइना एक खरब डॉलर की मार्केट कैपिटलाइजेशन को पार करने वाली विश्व की पहली कंपनी बनी थी।

मार्केट कैप कंपनी का वह मूल्य है जिसका व्यापार स्टॉक मार्केट में किया जाता है। मार्केट कैप की गणना कुल शेयर की संख्या को शेयर की वर्तमान कीमत से गुणा करके की जाती है।

अल्फाबेट

अल्फाबेट एक अमेरिकी कम्पनी है, यह गूगल की पैरेंट कंपनी है। अल्फाबेट में एक लाख से अधिक कर्मचारी कार्य करते हैं। अल्फाबेट की सब्सिडियरीज हैं : गूगल, कैलिको, कैपिटल जी, डीपमाइंड, गूगल फाइबर इत्यादि। वर्तमान में सुन्दर पिचाई अल्फाबेट के सीईओ हैं।

गूगल

गूगल एक अमेरिकी टेक कंपनी है। इसकी स्थापना  4 सितम्बर, 1998 को लैरी पेज तथा सेर्गे ब्रिन द्वारा की गयी थी। वर्तमान में गूगल के सीईओ भारतीय मूल के सुन्दर पिचाई हैं। गूगल में एक लाख से अधिक कर्मचारी काम करते हैं। गूगल के मुख्य उत्पाद इस प्रकार हैं : यूट्यूब, गूगल सर्च इंजन, गूगल असिस्टेंट, गूगल ट्रांसलेट, गूगल एड्स, गूगल एडसेंस, ब्लॉगर, गूगल डॉक्स, गूगल हैंगआउट्स, गूगल ड्राइव, गूगल मैप्स, जीमेल, गूगल प्ले, एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम, गूगल पे, गूगल पिक्सल स्मार्टफ़ोन इत्यादि।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , , ,

स्वच्छ भारत मिशन ने हासिल किये शहरी लक्ष्य

केन्द्रीय आवास व शहरी मामले मंत्रालय ने 23 दिसम्बर, 2019 को घोषणा की कि 35 राज्य/केंद्र शासित प्रदेश खुले में शौच से मुक्त घोषित किये जा चुके हैं। इसमें 4,167 शहर शामिल हैं।

मुख्य बिंदु

केन्द्रीय आवास व शहरी मामले मंत्रालय के अनुसार देश में 59 लाख शौचालयों के निर्माण का लक्ष्य निर्धारित किया गया था, परन्तु वास्तव में देश भर में 65.81 लाख शौचालय निर्मित किये जा चुके हैं।

इसके अलावा केन्द्रीय आवास व शहरी मामले मंत्रालय ने गूगल के साथ साझेदारी की तथा सार्वजनिक शौचालयों तक लोगों की पहुँच का आकलन किया। वर्तमान समय में देश के लगभग 2,300 शहरों के 57,000 से अधिक सार्वजनिक शौचालय गूगल मैप्स पर हैं।

स्वच्छ भारत अभियान

सार्वभौमिक स्वच्छता कवरेज प्राप्त करने और स्वच्छता पर ध्यान केंद्रित करने के उदेश्य से अक्टूबर 2014 में यह मिशन लॉन्च किया गया था। मिशन का उद्देश्य स्वच्छ भारत की प्राप्ती करना तथा महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर उचित श्रद्धांजलि देने रूप में 2019 तक भारत को स्वच्छ बनाना है। शौचालय पहुंच और इसके उपयोग के संबंध में लोगों के व्यवहार में परिवर्तन लाने का लक्ष्य रखने वाला यह विश्व का सबसे बड़ा स्वच्छता कार्यक्रम है । SBM में भी दो उप-मिशन शामिल हैं, स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण), ग्रामीण इलाकों में लागू करने के लिए और स्वच्छ भारत मिशन (शहरी), शहरी क्षेत्रों में लागू करने के लिए।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement