तेलंगाना उच्च न्यायालय

अमरावती में किया गया न्यायिक परिसर का उद्घाटन

भारत के मुख्य न्यायधीश रंजन गोगोई तथा नाधरा प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चन्द्रबाबू नायडू ने अमरावती में न्यायिक परिसर का उद्घाटन किया। इस परिसर में आंध्र प्रदेश के लिए अंतरिम उच्च न्यायालय कार्य करेगा। मुख्य न्यायधीश ने गुंटूर जिले के नेलापडू में उच्च न्यायालय के स्थायी भवन की आधारशिला भी रखी।

2018 तक आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के लिए एक ही उच्च न्यायालय था। हाल ही में केंद्र सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाद दोनों राज्यों के लिए अलग-अलग उच्च न्यायालयों की व्यवस्था की थी

अमरावती न्यायिक परिसर

अमरावती ने न्यायिक परिसर का निर्मात आंध्र प्रदेश राजधानी क्षेत्र विकास प्राधिकरण द्वारा किया जायेगा, यह कार्य 8 महीने में पूरा कर लिया जायेगा। इस निर्माण कार्य में 173 करोड़ रुपये का व्यय किया जायेगा। इस अस्थायी व्यवस्था का उपयोग आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय के लिए किया जाएगा। जब नेलापडू में नए उच्च न्यायालय का निर्माण कार्य हो जायेगा तो इस न्यायिक परिसर में सिविल कोर्ट कार्य करेगा।

मूल रूप में आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय का उद्घाटन 5 जुलाई, 1954 को गुंटूर में किया गया था। परन्तु बाद में इसे अक्टूबर, 1956 में हैदराबाद स्थानांतरित किया गया था।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

जस्टिस TBN राधाकृष्णन बने तेलंगाना उच्च न्यायालय के नए मुख्य न्यायधीश

जस्टिस TBN राधाकृष्णन तेलंगाना उच्च न्यायालय के नए मुख्य न्यायधीश बने। उन्हें राज्यपाल ईएसएल नरसिम्हन ने शपथ दिलाई। उनके शपथ ग्रहण समारोह में सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश आर. सुभाष रेड्डी व राज्य के मुख्यमंत्री के. चन्द्रशेखर राव मौजूद थे।

मुख्य बिंदु

इसके बाद तेलंगाना के मुख्य न्यायाधीश ने अन्य 12 न्यायाधीशों को शपथ दिलाई। 1 जनवरी, 2019 को तेलंगाना उच्च न्यायालय पृथक उच्च न्यायालय के रूप में अस्तित्व में आया। तेलंगाना उच्च न्यायालय हैदराबाद बाद उच्च न्यायालय के विभाजन के बाद अस्तित्व में आया। 2014 में तेलंगाना के अस्तित्व में आने के बाद आंध्र प्रदेश और तेलंगाना का उच्च न्यायालय एक ही था।

आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय

आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय 1 जनवरी, 2019 से कार्यशील हुआ यह भारत का 25वां उच्च न्यायालय है। इससे पहले पिछले माह भारत के सर्वोच्च न्यायालय ने हाल ही में आंध्र प्रदेश के लिए उच्च न्यायालय की स्थापना को मंज़ूरी दी। आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय अमरावती के निकट विजयवाड़ा में शुरू किया गया है। जस्टिस चगारी प्रवीण कुमार को पृथक आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय का पहला मुख्य न्यायधीश नियुक्त किया गया है।

आरम्भ में यह उच्च न्यायालय अस्थायी भवन में कार्य करेगा, बाद में यह उच्च न्यायालय आंध्र प्रदेश की राजधानी अमरावती जस्टिस सिटी में स्थापित किया जायेगा। यह अस्थायी उच्च न्यायालय 15 दिसम्बर, 2018 को कार्यशील हो गया ता। 2 जून, 2014 को आंध्र प्रदेश के विभाजन के बाद आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के लिए हैदराबाद में एक ही उच्च न्यायालय था, अब इस हैदराबाद के उच्च न्यायालय को तेलंगाना उच्च न्यायालय के नाम से जाना जायेगा।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

Advertisement