दक्षिण-पूर्व एशिया

सिंगापुर में 12वीं आसियान रक्षा मंत्रियों की बैठक तथा 5वीं ADDM प्लस का आयोजन किया गया

सिंगापुर में 19-20 अक्टूबर, 2018 को 12वीं आसियान रक्षा मंत्री बैठक तथा 5वीं ADDM-प्लस का आयोजन किया गया। आसियान रक्षा मंत्री बैठक तथा 5वीं ADDM-प्लस दक्षिण पूर्व एशिया में सुरक्षा के लिए प्रमुख मंत्रिस्तरीय प्लेटफार्म है, इस प्लेटफार्म पर आसियान देशों द्वारा सुरक्षा व सहयोग पर चर्चा की जाती है। इस सम्मेलन में भारत, ऑस्ट्रेलिया, चीन, जापान, न्यूजीलैंड, दक्षिण कोरिया, रूस तथा अमेरिका के रक्षा मंत्रियों ने भी हिस्सा लिया, भारत का प्रतिनिधत्व रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने किया।

ADDM प्लस

ADDM प्लस आसियान देशों तथा 8 वार्ता साझेदारों के लिए सुरक्षा सुदृढ़ करने तथा शांति व विकास के लिए रक्षा सहयोग के लिए प्लेटफार्म है। इसका उद्देश्य वार्ता तथा पारदर्शिता के साथ सदस्य देशों में आपसी विश्वास को मज़बूत करना है। ADDM प्लस सम्मेलन का पहला आयोजन 2010 में वियतनाम की राजधानी हनोई में किया गया। इस सम्मेलन में रक्षा मंत्रियों ने समुद्री सुरक्षा, आतंकवादी विरोधी कारवाई, शांति मिशन तथा मानवीय सहायता जैसे मुद्दों पर सहमती प्रकट की।

आसियान

10 दक्षिण पूर्व एशियाई देशों का अंतर-सरकारी संगठन है। इसकी स्थापना 6 अगस्त 1967 को हुई थी। इसका मुख्यालय जकार्ता, इंडोनेशिया में है। इसके सदस्य देश इंडोनेशिया, मलेशिया, फिलीपींस, सिंगापुर, थाईलैंड, ब्रुनेई, कंबोडिया, लाओस, म्यांमार और वियतनाम हैं।

चार्टर में आसियान के उद्देश्य के बारे में बताया गया है।सदस्य देशों की संप्रभुता, क्षेत्रीय अखंडता और स्वतंत्रता को कायम रखना साथ ही विवादों का शांतिपूर्ण निपटारा हो इसके उदेश्यों में शामिल है। इसके सेक्रेट्री जनरल आसियान द्वारा पारित किए प्रस्तावों को लागू करवाने और कार्य में सहयोग प्रदान करने का काम करतें है। इनका कार्यकाल पांच वर्ष का होता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

डॉ. पूनम खेत्रपाल को WHO के दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्र का क्षेत्रीय निदेशक नियुक्त किया गया

डॉ. पूनम खेत्रपाल को विश्व स्वास्थ्य संगठन के दक्षिण-पूर्व एशिया खेत्र का क्षेत्रीय निदेशक पुनर्नियुक्त किया गया। उनका कार्यकाल 5 वर्ष का होगा, उनका नया कार्यकाल फरवरी, 2019 से शुरू होगा। उनका चुनाव WHO दक्षिण पूर्व एशिया की क्षेत्रीय समिति की बैठक में किया गया।

डॉ. पूनम खेत्रपाल

डॉ. पूनम खेत्रपाल ने देश में आईएएस के रूप में दो दशकों तक अपनी सेवाएं दी हैं। उन्होंने पंजाब में स्वास्थ्य सचिव के रूप में भी कार्य किया है। पहली बार उन्हें 2014 में विश्व स्वास्थ्य संगठन के दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्र का क्षेत्रीय निदेशक चुना गया था, वे इस पद पर चुनी जाने वाली पहली महिला थीं। इससे पहले उन्होंने विश्व बैंक तथा भारत में स्वास्थ्य क्षेत्र से सम्बंधित कई महत्वपूर्ण पदों पर भी कार्य किया।

विश्व स्वास्थ्य संगठन दक्षिण पूर्व एशिया क्षेत्र

इसकी स्थापना 1948 में की गयी थी। इसमें 11 सदस्य देश हैं : बांग्लादेश, भूटान, कोरिया, भारत, इंडोनेशिया, मालदीव, म्यांमार, नेपाल, श्रीलंका, थाईलैंड और तिमोर-लेस्ते। यह संगठन सदस्य देशों को स्वास्थ्य सम्बन्धी तकनीकी व नीति सम्बंधित सहायता प्रदान करता है। इस संगठन की सहायता से विश्व स्वास्थ्य संगठन और सदस्य देश पारस्परिक सहयोग से एक-दूसरे के साथ कार्य करते हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

Advertisement