नरेद्र मोदी

COVID-19: PM CARES फंड से 3,100 करोड़ रुपये आवंटित किए गए

PM CARES फंड ट्रस्ट 27 मार्च, 2020 को बनाया गया था। इसकी अध्यक्षता प्रधानमंत्री मोदी कर रहे हैं। अन्य सदस्यों में गृह मंत्री, रक्षा मंत्री और वित्त मंत्री शामिल हैं।

वेंटीलेटर

आवंटित धनराशि का उपयोग 50,000 वेंटिलेटर खरीदने के लिए किया जाएगा। वेंटिलेटर 2,000 करोड़ रुपये की लागत से खरीदे जाएंगे। इन वेंटिलेटरों को सरकार द्वारा संचालित COVID-19 अस्पतालों में भेजा जाएगा।

प्रवासी

राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को लगभग 1000 करोड़ रुपये प्रदान किए जाएंगे। यह राशि नगर निगम आयुक्तों और जिला कलेक्टरों को दी जाएगी। इसका उपयोग भोजन की व्यवस्था, परिवहन व्यवस्था और प्रवासियों को चिकित्सा उपचार प्रदान करने के लिए किया जाएगा।

यह 1000 करोड़ 2011 की जनगणना और COVID-19 से प्रभावित व्यक्तियों की संख्या के आधार पर राज्यों में विभाजित किया जाएगा।

टीके

COVID-19 के खिलाफ टीका वर्तमान की सबसे महत्वपूर्ण जरूरत है। वैक्सीन डेवलपर्स का समर्थन करने के लिए 100 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

PM CARES फंड अलग कैसे है?

PM CARES फंड COVID-19 स्थिति के लिए समर्पित था। दूसरी ओर, प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (पीएमएनआरएफ) सभी प्राकृतिक आपदाओं के लिए है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

प्रधानमंत्री मोदी ने आत्मनिर्भर भारत अभियान की घोषणा की

12 मई, 2020 को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने एक नई योजना की घोषणा की, जिसका नाम है “आत्म निर्भर भारत अभियान”। नई योजना के तहत 20 लाख करोड़ के पैकेज की घोषणा की गई है।

मुख्य बिंदु

इस योजना के तहत, भारत सरकार प्रमुख क्षेत्रों का समर्थन करेगी और भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा किए गए उपायों को प्राप्त करने में भी मदद करेगी। यह आर्थिक पैकेज जीडीपी का 10% है।

यह पैकेज स्थानीय बाजारों और आपूर्ति श्रृंखला को मजबूत करने पर भी केंद्रित होगा।

योजना का लाभ

इस योजना में कर दाताओं, किसानों, मजदूरों, कुटीर उद्योगों और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। इस योजना का मुख्य उद्देश्य आत्मनिर्भर बनना है। यह योजना ‘वोकल फॉर लोकल’ पर भी ध्यान केंद्रित करेगी।

वोकल फॉर लोकल

COVID-19 के प्रभावों ने स्थानीय आपूर्ति श्रृंखला पर प्रकाश डाला है। भारत स्थानीय आपूर्ति श्रृंखला के कारण महामारी के प्रभाव से बचने में सफल रहा है। इसलिए, स्थानीय उपज को मजबूत करना महत्वपूर्ण हो गया है।

यह योजना न केवल स्थानीय आपूर्ति की श्रृंखला को मजबूत करने में मदद करेगी बल्कि स्थानीय रूप से उत्पादित उत्पादों को भी बढ़ावा देगी।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

Advertisement