नितिन गडकरी

केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने दिल्ली-मेरठ पैकेज-3 का उद्घाटन किया

केन्द्रीय सड़क परिवहन तथा उच्चमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने दिल्ली-मेरठ पैकेज-3 का उद्घाटन किया, यह गाज़ियाबाद में डासना को हापुर से जोड़ता है। यह दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे का बहु-प्रतीक्षित पैकेज है।

दिल्ली-मेरठ पैकेज-3

दिल्ली-मेरठ पैकेज-3 की लम्बाई 22 किलोमीटर है, इसकी निर्माण लागत 1,989 करोड़ रुपये है। इस परियोजना में कई अंडर-पास बनाये गये हैं तथा अप्पर गंगा कैनाल के ऊपर एक बड़ा पुल भी बनाया गया है। इस परियोजना से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के ट्रैफिक तथा प्रदूषण को कम करने में सहायता होगी।

इस पैकेज में 6 लेन सेक्शन हैं, इसमें सड़क के दोनों ओर 2 प्लस 2 लेन सर्विस रोड भी है। पिलखुवा में 4.68 किलोमीटर लम्बे 6 लेन एलिवेटेड कॉरिडोर भी है।

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे परियोजना

इस 82 किलोमीटर लम्बी परियोजना है, यह दिल्ली तथा उत्तर प्रदेश के मेरठ जो जोड़ता है। इसका निर्माण तीन पैकेज में किया जा रहा है :

  • पहले चरण के अंतर्गत दिल्ली में सराई काले खान से यू.पी.गेट के बीच 7 किलोमीटर लम्बा एक्सप्रेसवे जून, 2018 में पूरा हो गया  था।
  • 28 किलोमीटर लम्बा पैकेज गाजीपुर बॉर्डर से उत्तर प्रदेश के डासना तक है,यह 60% पूरा हो चुका है।
  • 23 किलोमीटर लम्बा एक्सप्रेसवे डासना से हापुर के बीच है।
  • 78 किलोमीटर लम्बे ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे हापुर से मेरठ के बीच निर्मित किया जा रहा है, यह 2019 के अंत तक पूरा हो जायेगा।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

सूक्ष्म व लघु उद्योगों को ऋण प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार शुरू करेगी रेटिंग सिस्टम

केंद्र सरकार सूक्ष्म व लघु उद्योगों को आसानी से ऋण उपलब्ध करने के लिए केंद्र सरकार एक रेटिंग एजेंसी की स्थापना करने पर विचार कर रही है। इसका ज़िक्र केन्द्रीय सड़क परिवहन तथा उच्चमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने चेन्नई में महिला उद्यमियों को संबोधित करते हुए किया।

मुख्य बिंदु

मौजूदा आर्थिक स्थिति में सूक्ष्म व लघु उद्योग की सहायता करने के लिए केंद्र सरकार इस प्रस्ताव पर विचार कर रही है। मौजूदा समय में व्यापारिक चक्र, मांग व आपूर्ति तथा वैश्विक रूझान के कारण आर्थिक क्षेत्र में काफी धीमापन आ गया है।

केंद्र सरकार ने MSME सेक्टर में अगले पांच वर्षों में 5 करोड़ नौकरियां सृजित करने का लक्ष्य रखा है। केंद्र सरकार सूक्ष्म, लघु तथा मध्यम उद्योग के लिए एक राष्ट्रीय पोर्टल शुरू करने की तैयारी कर है, इसके द्वारा MSME उद्योग अपने उत्पादों को सरलता से बेच सकते हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement