फिच ग्रुप

मूड़ीज़ ने भारत की आर्थिक विकास की दर के अनुमान में कमी की

अमेरिकी क्रेडिट रेटिंग एजेंसी कंपनी मूडीज़ ने भारत की आर्थिक विकास की दर के अनुमान में कमी की है। मूडीज़ ने चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की जीडीपी वृद्धि दर के अनुमान में कमी करके इसे 5.6% किया है। हालाँकि वर्ष 2020 में जीडीपी विकास दर में वृद्धि होने के आसार जताए गये हैं, अगले वर्ष जीडीपी विकास दर 6.6% रहने का अनुमान है। वर्ष 2021 में जीडीपी विकास दर 6.7% रहने का अनुमान है।

मूडीज़

मूडीज़ इन्वेस्टर्स सर्विस मूडीज़ कारपोरेशन के अधीन एक अमेरिकी क्रेडिट रेटिंग एजेंसी है। यह एजेंसी सरकारी तथा वाणिज्यिक इकाइयों द्वारा जारी बांड्स पर वित्तीय अनुसन्धान का कार्य करते हैं। स्टैण्डर्ड एंड पूअर्स तथा फिच ग्रुप के साथ मूडीज़ को विश्व की तीन सबसे बड़ी क्रेडिट रेटिंग एजेंसियों में से एक माना जाता है। इसकी स्थापना 1909 में की गयी थी।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , , ,

इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च ने 2019-20 के लिए भारत के GDP वृद्धि अनुमान को घटाकर 6.1% किया

इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च ने 2019-20 के लिए भारत के GDP वृद्धि अनुमान को 6.7% से घटाकर 6.1% किया। इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च फिच ग्रुप की एक इकाई है। गौरतलब है कि  यह पिछले दो माह में की गयी लगातार दूसरी कटौती है। अगस्त 2019 में इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च ने GDP विकास दर को 7.3% से घटाकर 6.7 % किया था। इसमें मंदी का कारण कमजोर ग्रामीण तथा शहरी उपभोग मांग को बताया गया है।

इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च का अनुमान

2019-20 के पहले 6 महीने के लिए जीडीपी विकास दर 5.2% रहने के अनुमान लगाया गया है, जबकि दूसरी छमाही  के लिए यह अनुमान 6.9% लगाया गया है।

सरकार द्वारा आर्थिक धीमेपन को रोकने के लिए उठाये गये कदम मध्यम तथा दीर्घकाल में परिणाम दिखायेंगे। इस वक्त सबसे बड़ी समस्या उपभोग मांग में कमी है, निजी कॉर्पोरेट निवेश में भी काफी कमी आई है।

भारत का चालू खाता घाटा सकल घरेलु उत्पादन का 3.3% रहने का अनुमान लगाया गया है, वित्त वर्ष 2020 में यह जीडीपी के 3.6% तक पहुँच सकता है। इसके अलावा वित्त वर्ष 2020 में डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपये की कीमत 70.86 रहने की उम्मीद है।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement