फिलिस्तीन

भारत ने फिलिस्तीनी शरणार्थियों की सहायता के लिए UNRWA को 5 मिलियन डॉलर का योगदान दिया

भारत ने हाल ही में फिलिस्तीनी शरणार्थियों के लिए संयुक्त राष्ट्र राहत व कार्य एजेंसी (UNRWA) को पांच मिलियन डॉलर प्रदान किये हैं। इस धनराशी का उपयोग शिक्षा, स्वास्थ्य, राहत व समाज सेवा इत्यादि के लिए किया जायेगा।

फिलिस्तीनी शरणार्थियों के लिए संयुक्त राष्ट्र राहत व कार्य एजेंसी (UNRWA)

यह संयुक्त राष्ट्र की एक राहत व मानवाधिकार एजेंसी है, यह 5 मिलियन से अधिक पंजीकृत फिलिस्तीनी शरणार्थियों की सहायता करती है। यह संयुक्त राष्ट्र की एकमात्र ऐसी एजेंसी है जो किसी विशेष क्षेत्र के शरणार्थियों के लिए समर्पित है। यह संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी उच्चायुक्त से अलग है।

इसकी स्थापना दिसम्बर, 1949 में 1948 के अरब-इसरायली संघर्ष के बाद संयुक्त राष्ट्र प्रस्ताव 302 (IV) के द्वारा की गयी थी। इस एजेंसी का कार्य फिलिस्तीनी शरणार्थियों के कल्याण तथा मानवीय विकास के लिए कार्य करना है।  इस एजेंसी की फंडिंग संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों द्वारा स्वैच्छिक योगदान के माध्यम से की जाती है।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

अरब लीग ने फिलिस्तीन के लिए 100 मिलियन डॉलर की प्रतिबद्धता ज़ाहिर की

अरब लीग ने फिलिस्तीन के लिए 100 मिलियन डॉलर की प्रतिबद्धता ज़ाहिर की है। इस वर्ष के शुरू में इजराइल ने फिलिस्तीन के लिए कर हस्तांतरण पर रोक लगा दी थी। अरब लीग के फैसले से फिलिस्तीन को वित्तीय समस्या से मुक्ति मिलेगी।

पृष्ठभूमि

फरवरी, 2019 में इजराइल ने फिलिस्तीन को कर हस्तांतरण किये जाने पर रोक लगा दी थी। इसके लिए इजराइल की संसद ने जुलाई, 2018 में कानून पारित किया था। इजराइल का आरोप था कि इसके द्वारा दी जाने वाली धनराशी आतंकवादियों तथा उनके परिवारों को दी जा रही थी। इजराइल फिलिस्तीन अथॉरिटी के स्थान पर कर एकत्रित करता है, परन्तु इस बार इजराइल ने फरवरी में फिलिस्तीन को एकत्रित 138 मिलियन डॉलर कर देने से मना कर दिया था।

अरब लीग

अरब लीग अरब देशों तथा उत्तरी अफ्रीका के देशों का क्षेत्रीय संगठन है। इस लीग का उद्देश्य सदस्य देशों के बीच संबंधों को मज़बूत बनाना है। वर्तमान में अरब लीग के 22 सदस्य हैं, नवम्बर, 2011 में सीरिया की सदस्यता को ख़ारिज किया गया था।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement