भारतीय अर्थव्यवस्था

COVID-19 से लड़ने के लिए G20 देशों ने 21 बिलियन अमरीकी डालर की प्रतिबद्धता व्यक्त की

6 जून, 2020 को G20 देशों ने COVID-19 के खिलाफ लड़ने के लिए 21 बिलियन अमरीकी डालर से अधिक की प्रतिबद्धता व्यक्त की। इन देशों ने अब तक वैश्विक आर्थिक संकट से लड़ने में मदद के लिए मार्च, 2020 में 5 ट्रिलियन अमरीकी डालर की घोषणा की थी।

21 बिलियन डालर की प्रतिबद्धता केवल आमंत्रित सदस्यों द्वारा की गई थी।

मुख्य बिंदु

जी-20 देशों ने वैश्विक अर्थव्यवस्था में पहले से ही 5 ट्रिलियन अमरीकी डॉलर डालने के लिए प्रतिबद्धता ज़ाहिर की थी, ताकि उनके सदस्यों को लक्षित राजकोषीय नीतियों, गारंटी योजनाओं, आर्थिक उपायों और महामारी के आर्थिक, सामाजिक और वित्तीय प्रभावों पर कदम उठाने में मदद मिल सके।  जी-20 के सदस्यों ने अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष और विश्व बैंक से उन देशों का समर्थन करने के लिए कहा है जिन्हें COVID-19 की लड़ाई में आवश्यक उपकरणों की आवश्यकता है।

फंड

आवंटित किए गए 21 बिलियन डॉलर फंड का उपयोग अनुसंधान और विकास, टीके, चिकित्सा विज्ञान और निदान में किया जायेगा। अप्रैल, 2020 में, G20 ने गैर-सरकारी संगठनों, परोपकार और निजी क्षेत्रों का आह्वान किया और अनुमान लगाया कि COVID-19 की लड़ाई में वित्तीय अंतर को बंद करने के लिए 8 बिलियन अमरीकी डालर की आवश्यकता है।

जी-20

जब मार्च 2020 में जी-20 के नेताओं से मुलाकात हुई, तो उन्होंने COVID-19 से लड़ने और वैश्विक अर्थव्यवस्था की सुरक्षा के उपायों को अपनाने के लिए एक वैश्विक प्रतिक्रिया तैयार की। उन्होंने वैश्विक सहयोग को बढ़ाकर व्यापार व्यवधान को कम करने की योजना भी बनाई थी।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

संयुक्त राष्ट्र ने विश्व आर्थिक स्थिति और संभावना रिपोर्ट 2020 जारी की

संयुक्त राष्ट्र ने हाल ही में वर्ल्ड इकोनॉमिक सिचुएशन एंड प्रॉस्पेक्ट्स रिपोर्ट, 2020 जारी की है। इस रिपोर्ट के अनुसार वैश्विक अर्थव्यवस्था 2020 में 3.2% तक सिकुड़ जाएगी। विकसित देशों में जीडीपी की वृद्धि 2020 में घटकर -0.5% रह जाएगी।

मुख्य विशेषताएं: भारत

इस रिपोर्ट के अनुसार 2018 में भारत की विकास दर 6.8% थी और 2019 में यह 4.1% थी। यह 2020 में घटकर 1.2% हो जाएगी। इस रिपोर्ट में पूर्वानुमान लगाया गया है कि भारत की वृद्धि 2021 में 5.5% तक बढ़ जाएगी।

मुख्य विशेषताएं: विश्व

वैश्विक अर्थव्यवस्था धीरे-धीरे 2021 तक रिकवर हो जायेगी। COVID-19 के कारण विश्व अर्थव्यवस्था में लगभग 8.5 ट्रिलियन अमरीकी डालर का नुकसान होगा। इसके अलावा, वैश्विक अर्थव्यवस्था में 2020 में 4.9% का संकुचन होगा। 2020 तक लगभग 34.3 मिलियन लोग गरीबी रेखा से नीचे सकते हैं।  साथ ही, रिपोर्ट में कहा गया है कि कई सरकारें असमान वित्तीय प्रोत्साहन उपायों को लागू कर रही हैं जो COVID-19 के प्रकोप से पैदा हुए संकट को कम करने के लिए उनके सकल घरेलू उत्पाद के लगभग 10% के बराबर हैं।

समाधान

इस रिपोर्ट में COVID-19 से निपटने के लिए निम्नलिखित उपाय सुझाए गए हैं :

  • COVID-19 वैश्वीकरण के मूल आधार को प्रभवित कर रहा है। इसलिए, वायरस को नियंत्रित करने के लिए मजबूत अंतरराष्ट्रीय सहयोग की आवश्यकता है
  • अर्थव्यवस्था में अधिक तरलता की आवश्यकता है
  • अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन पर  फोकस जाना चाहिए। लगभग 80% पर्यटन बंद हो जाने कारण लाखों लोग बेरोजगारों बेरोजगार हो गये हैं

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

Advertisement