भारतीय मेडिकल अनुसन्धान परिषद्

आज के मुख्य करेंट अफेयर्स समाचार :  18 नवम्बर, 2019

प्रतियोगी परीक्षाओं की दृष्टि से महत्वपूर्ण 18 नवम्बर, 2019 के मुख्य समाचार निम्नलिखित हैं :

राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स   

  • भारतीय सेना राजस्थान के बाड़मेर में कर रही है ‘सिन्धु सुदर्शन’ अभ्यास का आयोजन।
  • भारतीय मेडिकल अनुसन्धान परिषद् ने अमेरिका के नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ एलर्जी एंड इन्फेक्शस डिजीज तथा गेट्स फाउंडेशन के साथ समझौते पर हस्ताक्षर किये।
  • जस्टिस रवि रंजन बने झारखण्ड उच्च न्यायालय के नए मुख्य न्यायधीश।
  • भारत ने संयुक्त अरब अमीरात के लिए नागरिकों को वीज़ा-ऑन-अराइवल की सुविधा शुरू की।

अर्थव्यवस्था व व्यापार से सम्बंधित करेंट अफेयर्स

  • इंडियन आयल कारपोरेशन ने लद्दाख के लिए विशेष विंटर-ग्रेड डीजल की आपूर्ति शुरू की।
  • NCAER ने 2019-20 के लिए भारत की जीडीपी वृद्धि दर का अनुमान 4.9% लगाया।

अतर्राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • गोताबाया राजपक्षे ने जीता श्रीलंका का राष्ट्रपति चुनाव।
  • सड़क ट्रैफिक के शिकार लोगों के प्रति स्मरण दिवस 17 नवम्बर को मनाया गया।

खेल कूद करेंट अफेयर्स

  • भारत के पूर्व राजा तथा रामकुमार रामनाथन ने KPIT MSLTA चैलेंजर टेनिस प्रतियोगिता में पुरुष युगल वर्ग का खिताब जीता।
  • हांगकांग ओपन बैडमिंटन में हांगकांग के ली चयूक यिऊ ने पुरुष एकल वर्ग तथा चीन की चेन यु फेई ने महिला एकल वर्ग का खिताब जीता।
  • भारत के हरमीत देसाई ने ITTF चैलेंज इंडोनेशिया ओपन टेबल टेनिस टूर्नामेंट में पुरुष एकल वर्ग का खिताब जीता।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

स्वास्थ्य मंत्री ने राष्ट्रीय जीनोम ग्रिड (कैंसर) की स्थापना की घोषणा की

राज्य स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने राष्ट्रीय जीनोम ग्रिड (कैंसर) की स्थापना की घोषणा की। इसका उद्देश्य कैंसर अनुसन्धान को अगले स्तर पर ले जाने है, इसके द्वारा विभिन्न आर्थिक वर्गों को कैंसर के उपचार की सुविधा मिल सकेगा। इस राष्ट्रीय जीनोम ग्रिड में देश भर के कैंसर रोगियों के जीनोम डाटा का अध्ययन किया जायेगा।

राष्ट्रीय जीनोम ग्रिड (कैंसर)

राष्ट्रीय जीनोम ग्रिड (कैंसर) के लिए देश भर के कैंसर पीड़ितों के सैंपल एकत्रित किया जायेंगे, इसके बाद इस डाटा का अध्ययन किया जायेगा। इससे कैंसर को प्रभावित करने वाले जीनोम कारकों का पता चल सकेगा।

इस जीनोम की स्थापना राष्ट्रीय कैंसर उत्तक बायोबैंक की तर्ज पर की जायेगी। राष्ट्रीय कैंसर उत्तक बायोबैंक भारतीय मेडिकल अनुसन्धान परिषद् के साथ मिलकर कार्य कर सकता है, यह कैंसर पीड़ितों 50,000 जीनोम सैंपल के भण्डारण की क्षमता रखता है।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement