भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस

चर्चित व्यक्त्तिव : उद्धव ठाकरे

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री होंगे, वे 28 नवम्बर को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।

विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी को चुनाव में 105 सीटें प्राप्त हुई। भाजपा के सहयोगी दल शिवसेना को 56 सीटें प्राप्त हुई।

चुनावों में एनसीपी को 54 सीटें प्राप्त हुई हैं, जबकि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस को 44 सीटें प्राप्त हुई हैं। एमएनएस को एक सीट प्राप्त हुई है, जबकि अन्य दलों को 28 सीटें प्राप्त हुई हैं।

उद्धव ठाकरे

  • उद्धव ठाकरे का जन्म 27 जुलाई, 1960 को महाराष्ट्र में हुआ था, वे शिवसेना संस्थापक बाल ठाकरे के पुत्र हैं।
  • उद्धव ठाकरे वर्तमान में शिवसेना के अध्यक्ष हैं।
  • उन्होंने जून, 2006 से 28 नवम्बर, 2019 तक ‘सामना’ के एडिटर-इन-चीफ के रूप में कार्य किया।
  • शिवसेना के युवा नेता आदित्य ठाकरे उनके पुत्र हैं।
  • उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के 19वें मुख्यमंत्री होंगे।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

आज मनाई जा रही है लाल बहादुर शास्त्री जयंती

2 अक्टूबर को देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती मनाई जाती है। प्रधानमंत्री मोदी ने विजयघाट पहुँच कर लाल बहादुर शास्त्री जी को श्रद्धांजली अर्पित की।  उन्होंने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के साथ स्वतंत्रता आन्दोलन में भी सक्रीय रूप से भाग लिया था। उन्होंने 1965 के भारत-पाक युद्ध के दौरान ‘जय जवान, जय किसान’ का नारा दिया था। उन्हें उनकी सरलता तथा नरम स्वभाव के लिए जाना जाता था।

लाल बहादुर शास्त्री

लाल बहादुर शास्त्री का जन्म 2 अक्टूबर, 1904 को उत्तर प्रदेश के रामनगर में हुआ था। उन्होंने स्वतंत्रता आन्दोलन में सक्रीय रूप से हिस्सा लिया, वे अढाई वर्ष तक जेल में भी रहे। स्वतंत्रता के बाद वे 1951 से 1956 तक पंडित जवाहर लाल नेहरु की सरकार में रेलवे मंत्री रहे। 4 अप्रैल, 1961 से 29 अगस्त, 1963 के बीच वे देश के गृह मंत्री रहे। 9 जून, 1964 से 18 जुलाई, 1964 के बीच वे विदेश मंत्री भी रहे। 9 जून, 1964 से 11 जनवरी, 1966 के बीच वे देश के दूसरे प्रधानमंत्री रहे। उनके कार्यकाल में 1965 का भारत-पाक युद्ध हुआ था, इस युद्ध के दौरान उन्होंने ‘जय जवान, जय किसान’ का नारा दिया था। 10 जनवरी, 1966 को ताशकंद समझौते के बाद युद्ध औपचारिक रूप से समाप्त हुआ, उसके अगले दिन ही लाल बहादुर शास्त्री जी की निधन ताशकंद में हुआ। उनकी मृत्यु का कारण कार्डियक अरेस्ट बताया गया था। परन्तु उनकी मृत्यु का स्पष्ट कारण भी भी ज्ञात नहीं है, इस पर काफी विवाद है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

Advertisement