भारतीय रेलवे

भारतीय रेलवे की सबसे लम्बी विद्युतिकृत सुरंग को कमीशन किया गया

दक्षिण केन्द्रीय रेलवे ने सबसे लम्बी विद्युत् सुरंग को कमीशन किया, इस सुरंग की लम्बाई 6.6 किलोमीटर है। इसका निर्माण 460 करोड़ रुपये की लागत से चेर्लोपल्ली तथा रापुरु नामक स्टेशन के बीच किया गया है।

यह सुरंग 113 किलोमीटर लम्बी ओबुलावारीपल्ली-वेंकटचलम-कृष्णापटनम पोर्ट रेलवे लाइन का हिस्सा है। इस विद्युतिकृत सुरंग की ऊंचाई 6 मीटर है। इस सुरंग का निर्माण “न्यू ऑस्ट्रलियन टनलिंग मेथड” से किया गया है।

भारतीय रेलवे

भारतीय रेलवे विश्व के सबसे उत्कृष्ट रेलवे नेटवर्क में से एक है, भारतीय रेलवे का 1,51,000 किलोमीटर ट्रैक, 7000 स्टेशन, 13 लाख कर्मचारी तथा 160 वर्षों का इतिहास है। भारत में रेलवे की शुरुआत 16 अप्रैल, 1853 को बोरी बंदर और थाने के बीच हुई थी। तत्पश्चात भारतीय रेलवे का काफी विस्तार हुआ, देश के आर्थिक विकास में भारतीय रेलवे की भूमिका काफी महत्वपूर्ण है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

भारतीय रेलवे कर रहा है त्रिनेत्र टेक्नोलॉजी का परीक्षण

केन्द्रीय रेलवे मंत्री पियूष गोयल ने लोकसभा में प्रश्न काल के दौरान कहा कि भारतीय रेलवे त्रिनेत्र (Terrain Imaging for Drivers Infrared, Enhanced, Optical & Radar Assisted) टेक्नोलॉजी का परीक्षण कर रहा है। इस टेक्नोलॉजी के द्वारा रेलमार्ग में बाधाओं का पता लगाया जा सकता है।

मुख्य बिंदु

भारतीय रेल ने 2002-03 में आधुनिक तकनीक का विकास किया था और इसका परीक्षण बड़े पैमाने पर किया, परन्तु यह सफल नहीं हो सका। इसके बाद इस परियोजना को रद्द करके एक नयी परियोजना शुरू की गयी, नयी परियोजना में धुंध में देखने के लिए डिवाइस का विकास किया गया था। इसी प्रकार त्रिनेत्र भी भारतीय रेलवे का एक और प्रयास है। इस तकनीक के द्वारा रेल लाइन के मार्ग में मौजूद बाधाओं का पता लगाया जा सकता है।

त्रिनेत्र टेक्नोलॉजी

त्रिनेत्र टेक्नोलॉजी का पूर्ण स्वरुप Terrain Imaging for Drivers Infrared, Enhanced, Optical & Radar Assisted है। इसमें इन्फ्रारेड कैमरा, ऑप्टिकल कैमरा तथा राडार समर्थित इमेजिंग प्रणाली का उपयोग किया जा सकता है, इस तकनीक के माध्यम से चालक को धुंध में भी रेलमार्ग में मौजूद किसी बाधा का पता चल सकेगा। इस तकनीक का परीक्षण व्यापाक रूप से किया जायेगा ताकि इसके परिणाम सटीक हों।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement