भारतीय सशस्त्र सेना

भारत फ्रांस संयुक्त सैन्याभ्यास शक्ति 2019

भारत और फ्रांसीसी सैनिकों का संयुक्त सैन्य अभ्यास 31 अक्टूबर 2019 और 13 नवंबर 2019 के बीच होना है। यह भारत और फ्रांस में वैकल्पिक रूप से आयोजित द्विवार्षिक अभ्यास है। यह अभ्यास राजस्थान के महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में विदेशी प्रशिक्षण नोड में आयोजित किया जाना है।

दक्षिण पश्चिमी कमान की सिख रेजिमेंट की एक टुकड़ी अभ्यास में भारतीय सेना का प्रतिनिधित्व करेगी।

तथ्य

  • यह अभ्यास संयुक्त राष्ट्र जनादेश के तहत एक अर्ध-रेगिस्तानी इलाके में काउंटर टेररिज्म ऑपरेशन पर केंद्रित होगा।
  • यह सामरिक स्तर पर ड्रिल साझा करने, शारीरिक फिटनेस की उच्च डिग्री और एक-दूसरे से सर्वोत्तम युद्ध तरीके के सीखने पर ध्यान केंद्रित करेगा।
  • इसका उद्देश्य दोनों सेनाओं के बीच सहयोग, समझ और अंतर संचालन को बढ़ाना है।
  • इस अभ्यास का समापन 36 घंटे की वैधता के साथ होगा जिसमें गाँव में छिपे आतंकवादियों को निष्प्रभावी करना शामिल है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

नई दिल्ली में किया गया IRIGC-MTC की 18वीं बैठक का आयोजन

हाल ही में भारत की रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने रूसी रक्षा मंत्री जनरल सेर्गेई शोइगू से 18वीं सैन्य तकनीकी सहयोग पर भारतीय-रूसी अंतरसरकारी आयोग (IRIGC-MTC) की बैठक के दौरान मुलाकात की, इस बैठक का आयोजन नई दिल्ली में किया गया था।

मुख्य बिंदु

  • इस बैठक में रक्षा उपकरण, उद्योग तथा भारत व रूस के बीच तकनीकी सहयोग समेत विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गयी ।
  • इस बैठक में रूसी सैन्य उपकरणों के अपग्रेडेशन तथा सेल्स सपोर्ट पर भी चर्चा की गयी ।
  • इस दौरान दोनों मंत्रियों ने भारत और रूस के बीच द्विपक्षीय सैन्य सहयोग क्षेत्र में हो रही प्रगति पर संतुष्टि प्रकट की।
  • बैठक में कामोव-226T हेलीकाप्टर, नौसैनिक फ्रिगेट तथा अन्य परियोजनाओं के संयुक्त उत्पादन पर भी विचार विमर्श किया गया ।
  • दोनों देशों ने मेक इन इंडिया योजना के तहत भारत में ही रूसी उपकरणों के निर्माण पर सहमती प्रकट की।
  • IRIGC-MTC के ढाँचे में परिवर्तन करके इसे “सेना तथा सैन्य तकनीकी सहयोग पर भारत-रूस अंतरसरकारी आयोग” बनाया जायेगा, इसके लिए दोनों देशों ने समझौते पर हस्ताक्षर किये।

सैन्य तकनीकी सहयोग पर भारतीय-रूसी अंतरसरकारी आयोग (IRIGC-MTC)

रूस, भारत का सबसे महत्वपूर्ण हथियार आपूर्तिकर्ता रहा है।  दोनों देशों ने सैन्य व तकनीकी सहयोग के लिए संस्थागत ढांचा तैयार किया है। IRIGC इसी प्रकार का संस्थागत ढांचा है। सैन्य तकनीकी सहयोग पर भारतीय-रूसी अंतरसरकारी आयोग (IRIGC-MTC) की स्थापना वर्ष 2000 में की गयी थी। इसकी पहली बैठक का आयोजन वर्ष 2001 में रूस की राजधानी मास्को में किया गया था, इसकी अगली बैठक का आयोजन 2019 में रूस में किया जायेगा।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement