भारत और दक्षिण कोरिया

भारत और दक्षिण कोरिया ने 7 समझौतों पर हस्ताक्षर किये

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की दक्षिण कोरिया यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच सहयोग को बढ़ावा देने के लिए सात समझौतों पर हस्ताक्षर किये गये, यह समझौते निम्नलिखित हैं :

  • कोरियाई राष्ट्रीय पुलिस एजेंसी तथा गृह मंत्रालय के बीच कानूनी एजेंसियों में सहयोग को बढ़ावा देने के लिए MoU पर हस्ताक्षर किये गये।
  • राजकुमारी सूरीरत्ना की स्मृति में एक संयुक्त स्टैम्प जारी करने के लिए दोनों देशों ने समझौते पर हस्ताक्षर किये। सूरीरत्ना अयोध्या की राजकुमारी थी, उन्होंने कोरिया के शासक किम सूरो से विवाह किया था।
  • कोरिया प्लस नाम संगठन के संचालन को जारी रखने के लिए दोनों देशों ने समझौते पर हस्ताक्षर किये, कोरिया प्लस संगठन भारत में कोरियाई कंपनियों के निवेश में सहायता करता है।
  • दोनों देशों के स्टार्टअप्स के बीच सहयोग को बढ़ावा देने के लिए भारत में कोरिया स्टार्टअप केंद्र की स्थापना की जायेगी, इस केंद्र में स्टार्टअप कंपनियों के आइडियाज, टेक्नोलॉजी तथा डिजाईन के वाणिज्यीकरण के लिए कार्य किया जायेगा।
  • कोरियाई प्रसारण प्रणाली (KBS) तथा प्रसार भारती के बीच समझौते पर हस्ताक्षर किये गये, इस समझौते के तहत दक्षिण कोरिया में डीडी इंडिया चैनल तथा भारत में KBS वर्ल्ड चैनल का प्रसारण किया जायेगा।
  • मतस्य तथा एक्वाकल्चर के क्षेत्र में सहयोग के लिए दोनों देशों ने समझौते पर हस्ताक्षर किये। इसके तहत प्रशिक्षण कार्यशाला तथा मतस्यपालन के क्षेत्र में समुद्री विज्ञान का उपयोग किया जायेगा।
  • भारत में सड़क व परिवहन अधोसंरचना के विकास के लिए भारतीय राष्ट्रीय उच्चमार्ग प्राधिकरण (NHAI) तथा कोरिया एक्सप्रेसवे कारपोरेशन ने समझौते के लिए हस्ताक्षर किये।

यह प्रधानमंत्री मोदी की दूसरी दक्षिण कोरिया यात्रा थी, इससे पहले वे 2015 में दक्षिण कोरिया गये थे।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

कैबिनेट ने भारत और दक्षिण कोरिया के बीच पर्यटन क्षेत्र में सहयोग को मज़बूत करने के लिए MoU को मंज़ूरी दी

प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय कैबिनेट ने भारत और दक्षिण कोरिया के बीच पर्यटन क्षेत्र में सहयोग को मज़बूत करने के लिए MoU को मंज़ूरी दी।

MoU के उद्देश्य  

  • पर्यटन क्षेत्र में द्विपक्षीय सहयोग का विस्तार करना।
  • पर्यटन से सम्बंधित सूचना व जानकारी का आदान-प्रदान।
  • दोनों देशों के पर्यटन स्टेकहोल्डर्स जैसे होटल और टूर ऑपरेटर के बीच सहयोग को बढ़ावा देना।
  • मानव संसाधन विकास के तहत एक्सचेंज कार्यक्रम में सहयोग को बढ़ावा।
  • पर्यटन क्षेत्र में निवेश में वृद्धि करना।
  • पर्यटन क्षेत्र के सन्दर्भ में प्रमोशन, मार्केटिंग तथा प्रबंधन के लिए कार्य करना।
  • सुरक्षित, सम्मानित तथा सतत पर्यटन को बढ़ावा देना।

पृष्ठभूमि

भारत और दक्षिण कोरिया के बीच काफी लम्बे समय से मज़बूत राजनयिक तथा आर्थिक सम्बन्ध रहे हैं। अब दोनों देश पर्यटन क्षेत्र में संबंधों को मज़बूत करने की दिशा में कार्य कर रहे हैं। पूर्वी-एशिया क्षेत्र से दक्षिण कोरिया से काफी पर्यटक भारत आते हैं। MoU के बाद भारत में दक्षिण कोरिया से पर्यटकों की संख्या में वृद्धि होने के आसार हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

Advertisement