भारत के अंतर्राष्ट्रीय सम्बन्ध

भारत और दक्षिण कोरिया ने 7 समझौतों पर हस्ताक्षर किये

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की दक्षिण कोरिया यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच सहयोग को बढ़ावा देने के लिए सात समझौतों पर हस्ताक्षर किये गये, यह समझौते निम्नलिखित हैं :

  • कोरियाई राष्ट्रीय पुलिस एजेंसी तथा गृह मंत्रालय के बीच कानूनी एजेंसियों में सहयोग को बढ़ावा देने के लिए MoU पर हस्ताक्षर किये गये।
  • राजकुमारी सूरीरत्ना की स्मृति में एक संयुक्त स्टैम्प जारी करने के लिए दोनों देशों ने समझौते पर हस्ताक्षर किये। सूरीरत्ना अयोध्या की राजकुमारी थी, उन्होंने कोरिया के शासक किम सूरो से विवाह किया था।
  • कोरिया प्लस नाम संगठन के संचालन को जारी रखने के लिए दोनों देशों ने समझौते पर हस्ताक्षर किये, कोरिया प्लस संगठन भारत में कोरियाई कंपनियों के निवेश में सहायता करता है।
  • दोनों देशों के स्टार्टअप्स के बीच सहयोग को बढ़ावा देने के लिए भारत में कोरिया स्टार्टअप केंद्र की स्थापना की जायेगी, इस केंद्र में स्टार्टअप कंपनियों के आइडियाज, टेक्नोलॉजी तथा डिजाईन के वाणिज्यीकरण के लिए कार्य किया जायेगा।
  • कोरियाई प्रसारण प्रणाली (KBS) तथा प्रसार भारती के बीच समझौते पर हस्ताक्षर किये गये, इस समझौते के तहत दक्षिण कोरिया में डीडी इंडिया चैनल तथा भारत में KBS वर्ल्ड चैनल का प्रसारण किया जायेगा।
  • मतस्य तथा एक्वाकल्चर के क्षेत्र में सहयोग के लिए दोनों देशों ने समझौते पर हस्ताक्षर किये। इसके तहत प्रशिक्षण कार्यशाला तथा मतस्यपालन के क्षेत्र में समुद्री विज्ञान का उपयोग किया जायेगा।
  • भारत में सड़क व परिवहन अधोसंरचना के विकास के लिए भारतीय राष्ट्रीय उच्चमार्ग प्राधिकरण (NHAI) तथा कोरिया एक्सप्रेसवे कारपोरेशन ने समझौते के लिए हस्ताक्षर किये।

यह प्रधानमंत्री मोदी की दूसरी दक्षिण कोरिया यात्रा थी, इससे पहले वे 2015 में दक्षिण कोरिया गये थे।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

नेपाल में शुरू हुआ फेस्टिवल ऑफ़ इंडिया

नेपाल में हाल ही में “फेस्टिवल ऑफ़ इंडिया’ शुरू हुआ, यह उत्सव एक महीने तक चलेगा। इस उत्सव के उद्घाटन समारोह में नेपाल के संस्कृति, पर्यटन व नागरिक विमानन मंत्री रबिन्द्र अधिकारी मुख्य अतिथि थे।

मुख्य बिंदु

  • नेपाल में फेस्टिवल ऑफ़ इडिया का आयोजन स्वामी विवेकानंद सांस्कृतिक केंद्र द्वारा काठमांडू में भारतीय दूतावास में भारत के संस्कृति मंत्रालय के सहयोग से किया जा रहा है।
  • फेस्टिवल ऑफ़ इंडिया का उद्देश्य भारत और नेपाल के बीच सैंकड़ों वर्ष पुराने संबंधों को और भी प्रगाढ़ बनाना तथा देशों देशों के लोगों के बीच साझा सांस्कृतिक संबंधों को मज़बूत बनाना है।
  • इस उत्सव के द्वारा दोनों देशों के बीच पारस्परिक समझ में वृद्धि होगी।
  • इस उत्सव के पहले दिन सुमित रॉय ग्रुप ने संगीत व नाटक के माध्यम से बुद्ध के जीवन का वर्णन किया।
  • इस उत्सव में पंडित येल्ला वेंकटेश्वर की मृदंगम प्रस्तुति, हरिंदर पाल का पंजाबी लोक नृत्य, सु-समन्न्य ग्रुप की थिएटर कला, हरिप्रिया का कथकली नृत्य इत्यादि विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किया जायेंगे।
  • इस उत्सव में गांधीजी पर प्रदर्शनी का आयोजन भी किया जाएगा। इसके अलावा गाँधीजी पर भाषण प्रतियोगिता भी आयोजित की जायेगी तथा संस्कृत पर एक सेमिनार का आयोजन किया जायेगा।

स्वामी विवेकानंद सांस्कृतिक केंद्र

स्वामी विवेकानंद केंद्र का उद्देश्य भारत की सांस्कृतिक विरासत के बार में जागरूकता फैलाना तथा विश्व भर में संबंधों को मज़बूत बनाना है। इस केंद्र का संचालन भारतीय सांस्कृतिक सम्बन्ध परिषद् तथा विदेश मंत्रालय द्वारा किया जाता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

Advertisement