मूड़ीज़

मूड़ीज़ ने भारत की आर्थिक विकास की दर के अनुमान में कमी की

अमेरिकी क्रेडिट रेटिंग एजेंसी कंपनी मूडीज़ ने भारत की आर्थिक विकास की दर के अनुमान में कमी की है। मूडीज़ ने चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की जीडीपी वृद्धि दर के अनुमान में कमी करके इसे 5.6% किया है। हालाँकि वर्ष 2020 में जीडीपी विकास दर में वृद्धि होने के आसार जताए गये हैं, अगले वर्ष जीडीपी विकास दर 6.6% रहने का अनुमान है। वर्ष 2021 में जीडीपी विकास दर 6.7% रहने का अनुमान है।

मूडीज़

मूडीज़ इन्वेस्टर्स सर्विस मूडीज़ कारपोरेशन के अधीन एक अमेरिकी क्रेडिट रेटिंग एजेंसी है। यह एजेंसी सरकारी तथा वाणिज्यिक इकाइयों द्वारा जारी बांड्स पर वित्तीय अनुसन्धान का कार्य करते हैं। स्टैण्डर्ड एंड पूअर्स तथा फिच ग्रुप के साथ मूडीज़ को विश्व की तीन सबसे बड़ी क्रेडिट रेटिंग एजेंसियों में से एक माना जाता है। इसकी स्थापना 1909 में की गयी थी।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , , ,

2019 और 2020 के लिए ग्लोबल मैक्रो आउटलुक

हाल ही में मूड़ीज़ ने त्रैमासिक 2019 और 2020 के लिए ग्लोबल मैक्रो आउटलुक जारी की, भारत के सन्दर्भ में इस रिपोर्ट के मुख्य बिंदु निम्नलिखित हैं :

  • कैलेंडर वर्ष 2019 व 2020 में भारतीय अर्थव्यवस्था की विकास डॉ 7.3% रहने का अनुमान है। चुनावों के निकट प्रस्तावित व्यय से विकास दर तेज़ी पकड़ेगी।
  • एशिया के अन्य उभरते बाज़ारों की अपेक्षा भारत की विकास दर अगले दो वर्षों में काफी स्थिर रहेगी, वैश्विक विनिर्माण कारोबार में मंदी का असर भारत पर ज्यादा प्रभावशाली नही होगा।
  • वित्त वर्ष 2018-19 में भारतीय अर्थव्यवस्था की विकास दर 7% रही, जो की 2017-18 की विकास दर 7.2% से कुछ कम है।
  • किसानों के लिए प्रत्यक्ष हस्तांतरण कार्यक्रम तथा मध्यम वर्ग के लिए कर राहत से जीडीपी में 0.45% की बढ़ोत्तरी हो सकती है।
  • भारतीय बैंकिंग व्यवस्था में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है।
  • इस रिपोर्ट में कहा गया है कि भारतीय बैंकिंग व्यवस्था के कायाकल्प के लिए अभी और अधिक समय की आवश्यकता है।
  • इस रिपोर्ट में कहा गया है कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था तथा अधोसंरचना पर व्यय से घरेलु गतिविधि को बढ़ावा मिलेगा।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement