रिलायंस

मुकेश अम्बानी बने विश्व के 9वें सबसे धनी व्यक्ति

फोर्ब्स पत्रिका की ‘द रियल टाइम बिलियनेयर्स लिस्ट’ के अनुसार रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अम्बानी की नेटवर्थ 60.8 अरब डॉलर पर पहुँच गये हैं। इस सूची में पहले स्थान पर ई-कॉमर्स कम्पनी अमेज़न के संस्थापक जेफ़ बेज़ोस हैं, उनकी नेटवर्थ 113 अरब डॉलर है। मुकेश अम्बानी की नेटवर्थ में वृद्धि का मुख्य कारण रिलायंस इंडस्ट्रीज के मार्केट कैप में होने वाली वृद्धि है।

मुख्य बिंदु

मुकेश अम्बानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज 10 लाख करोड़ रुपये के मार्केट कैप वाली पहली भारतीय कंपनी बनी। मार्केट कैप कंपनी का वह मूल्य है जिसका व्यापार स्टॉक मार्केट में किया जाता है। मार्केट कैप की गणना कुल शेयर की संख्या को शेयर की वर्तमान कीमत से गुणा करके की जाती है।

पिछले एक वर्ष में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर की कीमत में लगभग 40% की वृद्धि होने के इसका मार्केट कैप 10 लाख करोड़ के पार पहुंचा। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज रिलायंस के शेयर की कीमत 1581.25 रुपये है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

रिलायंस बनी फार्च्यून ग्लोबल 500 लिस्ट में शीर्ष भारतीय कंपनी

मुकेश अम्बानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) फार्च्यून ग्लोबल 500 लिस्ट में शामिल होने वाली शीर्ष भारतीय कंपनी बन गयी है, इस वर्ष रिलायंस 106वें स्थान पर है, इस वर्ष रिलायंस की रैंकिंग में 42 स्थानों का सुधार हुआ है। इससे पहले इंडियन आयल कारपोरेशन फार्च्यून ग्लोबल 500 लिस्ट में शीर्ष भारतीय कंपनी थी।

रिलायंस के राजस्व में 32.1% की वृद्धि हुई है, 2018 में रिलायंस का राजस्व 62.3 अरब डॉलर से बढ़कर 2019 में 82.3 अरब डॉलर पर पहुँच गया है। जबकि इंडियन आयल कारपोरेशन का राजस्व 65.9 अरब डॉलर से बढ़कर 77.6 अरब डॉलर पर पहुँच गया है।

सूची में शामिल अन्य भारतीय कंपनियां : आयल एंड नेचुरल गैस कारपोरेशन (160वां स्थान), भारतीय स्टेट बैंक (236वां स्थान), टाटा मोटर्स (265वां स्थान), भारत पेट्रोलियम कारपोरेशन लिमिटेड (275वां स्थान) तथा राजेश एक्सपोर्ट्स (495वां स्थान) ।

टॉप 10 कंपनियां

  1. वालमार्ट (अमेरिकी रिटेल कंपनी)
  2. सिनोपेक ग्रुप (चीन की सरकारी तेल व गैस कंपनी)
  3. रॉयल डच शैल (डच कंपनी)
  4. चाइना नेशनल पेट्रोलियम
  5. स्टेट ग्रिड
  6. सऊदी अरामको (सऊदी अरब की तेल कंपनी
  7. ब्रिटिश पेट्रोलियम (ब्रिटिश तेल व गैस कंपनी)
  8. एक्सॉन मोबिल
  9. वोल्क्सवैगन
  10. टोयोटा मोटर्स

फार्च्यून ग्लोबल 500

यह एक वार्षिक रैंकिंग है, इसमें विश्व भर की 500 कंपनियों को शामिल किया जाता है, इन कंपनियों को राजस्व के आधार पर शामिल किया जाता है। इस सूची को फार्च्यून नामक अमेरिकी पत्रिका द्वारा तैयार किया जाता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

Advertisement