सकल घरेलु उत्पाद

भारतीय विनिर्माण बैरोमीटर 2019 रिपोर्ट : मुख्य बिंदु

फेडरेशन ऑफ इंडियन चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (FICCI) ने भारतीय विनिर्माण बैरोमीटर 2019 रिपोर्ट तैयार की है। इस रिपोर्ट को उन कंपनियों के सर्वेक्षण के आधार पर तैयार किया गया है जिनका योगदान विनिर्माण सकल घरेलु उत्पाद में लगभग 12% है। इसमें ऑटोमोबाइल, रसायन, इलेक्ट्रिकल मशीनरी, खाद्य प्रसंस्करण, लेदर, फार्मास्यूटिकल तथा कपडा सेक्टर की कंपनियां शामिल हैं।

मुख्य बिंदु

  • अगले 12 महीने में घरेलु बाज़ार, टेक्नोलॉजी तथा निवेश के विस्तार से भारत में काफी तीव्र गति से विकास होगा।
  • इस सर्वेक्षम में शामिल 74% कंपनियों का मत है कि अगले एक वर्ष में सेक्टर की विकास दर में वृद्धि होगी।
  • इस सर्वेक्षम में शामिल 58% कंपनियों के मत है कि सेक्टर में कम से कम 5% की वृद्धि होगी।
  • घरेलु बाज़ार के अनुकूल होने के कारण भारतीय अर्थव्यवस्था की विकास दर 7.3-7.7% के बीच रह सकती है।

भारत को लोजिस्टिक्स सेक्टर में कार्य करने की आवश्यकता है। भारत में लोजिस्टिक्स की लागत कुल लागत का 15% हिस्सा होती है, जबकि जापान में यह लागत 10% होती है। लोजिस्टिक्स की लागत कम होने के कारण विनिर्माण क्षेत्र को काफी लाभ होगा।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

स्टैण्डर्ड चार्टर्ड ने जारी किये दीर्घकालीन जीडीपी अनुमान

स्टैण्डर्ड चार्टर्ड ने हाल ही में सकल घरेलु उत्पादन के सम्बन्ध में दीर्घकालीन अनुमान जारी किये, इस अनुमान के मुख्य बिंदु निम्नलिखित हैं:

  • 2030 तक विश्व की टॉप 10 अर्थव्यवस्थाओं में से 7 अर्थव्यवस्थाएं वर्तमान की उभरती हुए अर्थव्यवस्थाएं होंगी।
  • 2020 तक चीन विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जायेगा।
  • 2020 में भारत का सकल घरेलु उत्पाद (जीडीपी) अमेरिका से अधिक हो सकता है।
  • 2020 तक इंडोनेशिया विश्व की टॉप 5 अर्थव्यवस्थाओं के समूह में शामिल हो जायेगा।
  • 2020 के दशक में भारत की विकास दर 7.8% रहने के आसार हैं।
  • 2030 तक चीन की विकास दर 5% रह सकती है।
  • वर्तमान में वैश्विक सकल घरेलु उत्पाद में एशिया का हिस्सा लगभग 28% है, 2030 में 35% तक पहुँच जायेगा।

सकल घरेलु उत्पाद : सकल घरेलु उत्पाद एक निश्चित समय में (वार्षिक अथवा त्रैमासिक) अंतिम वस्तुओं व सेवाओं के उत्पादन का मौद्रिक मूल्य है। यह देश की कुल आर्थिक गतिविधि का माप है।

स्टैण्डर्ड चार्टर्ड

स्टैण्डर्ड चार्टर्ड एक ब्रिटिश बहुराष्ट्रीय बैंकिंग व वित्तीय सेवा कंपनी है, इसका मुख्यालय लन्दन में स्थित है। यह एक सार्वभौमिक बैंक है, यह बैंकिंग समेत विभिन्न वित्तीय सेवाएं प्रदान करता है। इसकी स्थापना 1969 में की गयी थी।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement