सतर्कता जागरूकता सप्ताह

सुरेश एन. पटेल को केन्द्रीय सतर्कता आयोग में सतर्कता आयुक्त के रूप में नियुक्त किया गया

के. संथानम समिति की सिफारिश पर केंद्रीय सतर्कता आयोग की स्थापना 1964 में सरकार द्वारा की गई थी, ताकि सामान्य अधीक्षण और सतर्कता प्रशासन पर नियंत्रण किया जा सके। हाल ही में, आंध्र बैंक के पूर्व एमडी और सीईओ सुरेश एन. पटेल को केन्द्रीय सतर्कता आयोग में सतर्कता आयुक्त के रूप में नियुक्त किया गया है। केंद्रीय सतर्कता आयोग अधिनियम 2003 के अनुसार अध्यक्ष के रूप में एक केंद्रीय सतर्कता आयुक्त होगा और सदस्य के रूप में दो से अन्य सतर्कता आयुक्त होंगे। केंद्रीय सतर्कता आयुक्त और सतर्कता आयुक्तों के पद का कार्यकाल कार्यालय में प्रवेश करने की तारीख से चार साल या जब तक वे 65 वर्ष की आयु प्राप्त नहीं कर लेते, तक होता है।

केंद्रीय सतर्कता आयुक्त की भूमिका

केंद्रीय सतर्कता आयुक्त सरकारी अधिकारियों के खिलाफ भ्रष्टाचार की जांच करता है। हालाँकि, इस तरह की जाँच सरकार की अनुमति के बाद ही की जा सकती है। केंद्रीय सतर्कता आयुक्त पूछताछ शुरू करने के लिए सीबीआई अधिकारियों को निर्देश नहीं दे सकता है। CVC के पास आपराधिक मामले दर्ज करने की शक्तियां नहीं होती हैं, बल्कि यह केवल सतर्कता और अनुशासनात्मक मामलों से सम्बंधित कार्य कर सकता है।

सतर्कता जागरूकता सप्ताह

सतर्कता जागरूकता सप्ताह हर साल अक्टूबर के अंतिम सप्ताह में मनाया जाता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

संजय कोठारी को केंद्रीय सतर्कता आयुक्त नियुक्त किया गया

25 अप्रैल, 2020 को सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी संजय कोठारी ने राष्ट्रपति भवन में केंद्रीय सतर्कता आयुक्त (CVC) के रूप में शपथ ली। उन्हें राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने शपथ दिलाई।

मुख्य बिंदु

संजय कोठारी ने भारत के राष्ट्रपति के सचिव के रूप में कार्य किया है। उन्हें 20 अप्रैल, 2020 को  कपिल देव त्रिपाठी द्वारा प्रतिस्थापित किया गया था। श्री त्रिपाठी 1980 बैच के आईएएस अधिकारी हैं।

संजय कोठारी को एक उच्च-स्तरीय चयन पैनल द्वारा अनुशंसित किया गया था। इस पैनल की अध्यक्षता प्रधानमंत्री ने की थी। सीवीसी को समिति की सिफारिश के आधार पर राष्ट्रपति द्वारा नियुक्त किया जाता है। इस समिति में विपक्ष के नेता और  गृह मंत्री शामिल होते हैं।

केंद्रीय सतर्कता आयुक्त की भूमिका

केंद्रीय सतर्कता आयुक्त सरकारी अधिकारियों के खिलाफ भ्रष्टाचार की जांच करता है। हालाँकि, इस तरह की जाँच सरकार की अनुमति के बाद ही की जा सकती है। केंद्रीय सतर्कता आयुक्त पूछताछ शुरू करने के लिए सीबीआई अधिकारियों को निर्देश नहीं दे सकता है। CVC के पास आपराधिक मामले दर्ज करने की शक्तियां नहीं होती हैं, बल्कि यह केवल सतर्कता और अनुशासनात्मक मामलों से सम्बंधित कार्य कर सकता है।

सतर्कता जागरूकता सप्ताह

सतर्कता जागरूकता सप्ताह हर साल अक्टूबर के अंतिम सप्ताह में मनाया जाता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

Advertisement