सर्वोच्च न्यायालय

आज के मुख्य करेंट अफेयर्स समाचार :  11 जनवरी, 2020

प्रतियोगी परीक्षाओं की दृष्टि से महत्वपूर्ण  11 जनवरी, 2020  के मुख्य समाचार निम्नलिखित हैं :

राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स                           

  • इन्टरनेट एक मूलभूत अधिकार है, जम्मू-कश्मीर प्रशासन इन्टरनेट सेवा पर लगाई गयी रोक की समीक्षा करे : सर्वोच्च न्यायालय
  • लखनऊ में 12-16 जनवरी के दौरान किया जाएगा राष्ट्रीय युवा उत्सव का आयोजन
  • केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नई दिल्ली में भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र का उद्घाटन किया, उन्होंने राष्ट्रीय साइबर अपराध रिपोर्टिंग पोर्टल (www.cybercrime.gov.in) को देश को समर्पित किया
  • दिग्गज प्रसारक, कवि व शिक्षाविद ओबैद सिद्दीकी का निधन गाज़ियाबाद में 63 वर्ष की आयु में हुआ
  • 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस मनाया गया
  • भारतीय नौसेना मार्च 2020 में करेगी ‘मिलन’ नामक बहुपक्षीय अभ्यास का आयोजन
  • विश्व की सबसे अधिक जनसँख्या वृद्धि वाले शहरों की सूची में केरल के तीन शहर – मलप्पुरम (1), कोजीकोड (4) और कोल्लम (10) शामिल

भारत में अपराध

  • राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) ने ‘क्राइम इन इंडिया’ के 2018 के संस्करण को जारी किया
  • 2018 में भारत में कुल 50.74 लाख अपराध दर्ज किये गये
  • 2017 के मुकाबले 2018 में भारत में अपराध में 1.3% की वृद्धि हुई
  • 2017 में अपराध दर प्रति लाख जनसँख्या पर 388.6 थी, 2018 में यह दर कम होकर 383.5 हुई

आर्थिक करेंट अफेयर्स

  • नवम्बर में औद्योगिक उत्पादन सूचकांक में 1.8% की दर से वृद्धि हुई
  • भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 3 जनवरी को सर्वोच्च स्तर 461.157 अरब डॉलर पर पहुँचा
  • उर्जा मंत्रालय ने ‘राज्य उर्जा दक्षता सूचकांक 2019’ जारी किया
  • 12-15 मार्च, 2020 के दौरान किया जाएगा ‘विंग्स इंडिया 2020’ का आयोजन

अंतर्राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • चीन और पाकिस्तान के बीच किया जा रहा है ‘सी गार्डियन्स-2020’ नौसैनिक अभ्यास का आयोजन
  • अमेरिका के हाउस ऑफ़ रीप्रेजेंटेटिव्स ने ईरान के विरुद्ध सैन्य करवाई करने के लिए बिना कांग्रेस की अनुमति के राष्ट्रपति की क्षमता को सीमित करने के लिए प्रस्ताव पारित किया

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

सर्वोच्च न्यायालय ने अयोध्या मामले के निर्णय पर दायर सभी पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज किया

सर्वोच्च न्यायालय ने अयोध्या मामले के निर्णय पर दायर करेगा पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज कर दिया है। यह निर्णय मुख्य न्यायधीश एस.ए. बोबड़े की अध्यक्षता वाली बेंच ने किया, इसमें जस्टिस डी. वाई. चंद्रचूड़, अशोक भूषण, एस.ए. नज़ीर और संजीव खन्ना शामिल थे। इस बेंच ने सभी 18 पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज कर दिया है।

सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय

सर्वोच्च न्यायालय ने 5 एकड़ की विवादित भूमि पर राम मंदिर के निर्माण का मार्ग प्रशस्त कर दिया है। न्यायालय ने केंद्र सरकार को सुन्नी वक्फ बोर्ड को मस्जिद के निर्माण के लिए किसी अन्य स्थान पर पांच एकड़ भूमि प्रदान करने का आदेश दिया है।

यह निर्णय भारत के मुख्य न्यायधीश जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता में पांच न्यायाधीशों वाली पीठ ने सुनाया। इस पीठ में जस्टिस अशोक भूषण, एस.ए. बोबड़े, डी. वाई. चंद्रचूड़ तथा एस. अब्दुल नजीर शामिल है। इस फैसले का समर्थन पाँचों न्यायधीशों ने किया है।

अयोध्या भूमि विवाद की टाइमलाइन

1885 : महंत रघुबर दास ने अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए प्रथम मुकद्दमा दायर किया।

1949 : बाबरी मस्जिद के अन्दर भगवान् श्री राम की मूर्तियाँ पायी गयीं।

1950 से 1950 के बीच हिन्दू तथा मुस्लिम संगठनों ने 5 अन्य मुकद्दमे दायर किये।

1992 : दक्षिणपंथी कार्यकर्ताओं ने बाबरी मस्जिद को नष्ट किया।

2010 : इलाहबाद उच्च न्यायालय ने विवादित भूमि को तीन पार्टियों – निर्मोही अखाड़ा, सुन्नी वक्फ बोर्ड तथा राम लल्ला में विभाजित किया था।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , , , ,

Advertisement