सागर

मिशन सागर: आईएनएस केसरी सेशेल्स में पहुंचा

भारतीय नौसेना  का जहाज केसरी ‘मिशन सागर’ के तहत COVID-19 संबंधित दवाएं प्रदान करने के लिए सेशेल्स में पोर्ट विक्टोरिया पर पहुंच गया है।

मुख्य बिंदु

COVID-19 संबंधित आवश्यक दवाएं प्रदान करने के लिए भारतीय नौसेना द्वारा ‘मिशन सागर’ लांच किया गया था। इस मिशन के तहत भारत सरकार COVID-19 से निपटने के लिए विदेशों में सहायता प्रदान कर रही है।

मिशन सागर

भारत ने दक्षिणी हिंद महासागर में देशों को खाद्य पदार्थ उपलब्ध कराने के लिए मई, 2020 में ‘मिशन सागर’ लॉन्च किया था। पहल के एक हिस्से के रूप में मालदीव, मॉरीशस, मेडागास्कर, कोमोरोस और सेशेल्स को आवश्यक आपूर्ति की जानी थी।

इस मिशन ने एचसीक्यू टैबलेट, चिकित्सा सहायता और विशेष आयुर्वेदिक दवाओं की भी आपूर्ति की। इस मिशन के तहत भारत ने मालदीव, मॉरीशस, मेडागास्कर, कोमोरोस और सेशेल्स को  आयुर्वेदिक दवाओं और COVID-19 संबंधित दवाओं को की आपूर्ति की। यह मिशन पीएम मोदी के ‘सागर’ दृष्टिकोण से प्रेरित था।

सागर (SAGAR)

SAGAR का पूर्ण स्वरुप Security and Growth for All in the Region है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

फानी चक्रवात

भारतीय मौसम विभाग के अनुसार दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी में चक्रवात फानी और अधिक उग्र हो सकता है। यह चक्रवात 30 अप्रैल तक तमिलनाडु के तटीय क्षेत्रों से टकराएगा। बाद मौसम विभाग ने केरल और तमिलनाडु में रेड अलर्ट जारी कर किया और मछुआरों को दक्षिण-पूर्व खाड़ी के क्षेत्र में जाने से मना किया है।

  • चक्रवात फानी “श्रेणी 3” तूफ़ान बना सकता है।
  • इसका निर्माण सुमात्रा (इंडोनेशिया के द्वीप) के दक्षिण-पूर्वी में निम्न दाब वाले क्षेत्र में हुआ था।
  • यह चक्रवात 30 अप्रैल को तमिलनाडु के तटीय इलाकों से 100 किलोमीटर प्रतिघंटा से गति से टकरा सकता है।
  • इस चक्रवात के कारण तमिलनाडु, पुदुचेरी और केरल में बारिश होने के आसार हैं।
  • वर्तमान में यह चक्रवर उत्तर-पश्चिमी दिशा में 21 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से बढ़ रहा है। 1 मई के बाद यह अपनी दिशा उत्तर तथा उत्तर-पूर्व की ओर धीरे-धीरे मोड़ सकता है।

पिछले कुछ वर्षों के चक्रवात

  • 2017 में ओखी नामक चक्रवात केरल, तमिलनाडु तथा श्रीलंका से टकराया था।
  • 2018 में गज, सागर (सोमालिया में), मेकुनु (ओमान में), लुबन (अरब प्रायद्वीप) तथा तितली चक्रवात (आंध्र प्रदेश) प्रमुख थे।
  • 2019 में पाबुक नामक चक्रवात थाईलैंड की खाड़ी से उत्पन्न हुआ था।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , , ,

Advertisement