सार्वजनिक सेक्टर के बैंक

केंद्र सरकार ने 10 सार्वजनिक सेक्टर के बैंकों के विलय की घोषणा की

केंद्र सरकार ने सार्वजनिक सेक्टर के बैंकों का विलय 4 बैंकों में करने का निर्णय लिया है। इस विलय के बाद सार्वजनिक सेक्टर के बैंकों की संख्या 12 रह जाएगी।

मुख्य बिंदु

पंजाब नेशनल बैंक, ओरिएण्टल बैंक ऑफ़ कॉमर्स तथा यूनाइटेड बैंक का विलय एक इकाई में किया जायेगा, यह भारतीय स्टेट बैंक के बाद दूसरा सबसे बड़ा सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक बन जायेगा। केनरा बैंक तथा सिंडिकेट बैंक का विलय करके देश का चौथा सबसे बड़ा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक अस्तित्व में आएगा। यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया, आंध्र बैंक तथा कारपोरेशन बैंक का विलय एक इकाई के रूप में किया जायेगा, यह देश का पांचवा सबसे बड़ा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक होगा।

इंडियन बैंक का विलय इलाहबाद बैंक के साथ किया जाएगा, यह देश का सातवाँ सबसे बड़ा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक होगा।  बैंक ऑफ़ इंडिया, सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया, इंडियन ओवरसीज बैंक, यूको बैंक, बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र तथा पंजाब एंड सिंध बैंक मौजूदा स्वरुप में कार्य करते रहेंगे।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , , ,

Advertisement