सीमा सड़क संगठन

बीआरओ ने रावी नदी के ऊपर स्थायी पुल का निर्माण किया

सीमा सड़क संगठन ने रावी नदी के ऊपर स्थायी पुल का निर्माण कार्य पूरा कर लिया है। कसोवाल पुल पंजाब के किसानों को अपनी फसल को आसानी से ले जाने में मदद करेगा।

मुख्य बिंदु

इस पुल का निर्माण समय से पहले पूरा हो गया है। इस पुल का निर्माण बीआरओ ने प्रोजेक्ट चेतक के तहत किया गया है। इस पुल की निर्माण  लागत 17.89 करोड़ रुपये है।

रावी नदी

रावी नदी को इरावती नाम से भी जाना जाता है। इस नदी के तटवर्ती राज्यों में हिमाचल प्रदेश और पंजाब शामिल हैं। सिंधु जल संधि 1960 के तहत रावी और अन्य पांच नदियों के पानी को भारत और पाकिस्तान के बीच विभाजित किया गया है।

सिंधु जल संधि

सिंधु जल संधि भारत और पाकिस्तान के बीच जल वितरण संधि है। विश्व बैंक द्वारा इस संधि की मध्यस्थता की गई थी। इस संधि पर कराची में हस्ताक्षर किये गये थे। इस संधि के अनुसार, भारत की पूर्वी नदियों रावी, ब्यास और सतलुज को भारत को दिया गया और भारत की पश्चिमी नदियों सिंधु, चिनाब और झेलम का पानी पाकिस्तान को दिया गया था।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

अरुणाचल प्रदेश में सुबनसिरी नदी पर दापोरिजो पुल का उद्घाटन किया गया

20 अप्रैल, 2020 को अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने सुबनसिरी नदी पर एक पुल का उद्घाटन किया। इस पुल का निर्माण बीआरओ (सीमा सड़क संगठन) द्वारा किया गया है।

मुख्य बिंदु

इस पुल का निर्माण कार्य बीआरओ द्वारा किया गया है। भारत-चीन सीमा तक जाने वाली संपर्क सड़कों के लिए इस पुल का बहुत महत्व है। इस पुल का निर्माण एक महीने से भी कम समय में किया गया है।  यह पुल 40 टन वजन का उठाने में सक्षम है।

महत्व

इस पुल से होकर राशन की आपूर्ति, दवाएं और निर्माण सामग्री का परिवहन किया जाता है। इसके अलावा, भारतीय सेना के पारगमन के लिए भी यह महत्वपूर्ण है। गौरतलब है कि चीन के पास भारतीय सीमा के करीब वाहन योग्य सड़कें हैं।

सुबनसिरी नदी

सुबनसिरी नदी ब्रह्मपुत्र नदी की एक सहायक नदी है। यह तिब्बत और अरुणाचल प्रदेश  से होकर गुज़रती है। इस नदी का उद्गम चीन में है। यह असम में ब्रह्मपुत्र से मिलती  है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

Advertisement