सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस

आज के मुख्य करेंट अफेयर्स समाचार :  18 दिसम्बर, 2019

प्रतियोगी परीक्षाओं की दृष्टि से महत्वपूर्ण 18 दिसम्बर, 2019 के मुख्य समाचार निम्नलिखित हैं :

राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स   

  • सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस के दो संस्करणों का सफल परीक्षण किया गया।
  • सीबीआई अफसर बी.पी. राजू ने ‘इंडिया साइबर कॉप ऑफ़ द ईयर 2019’ का खिताब।
  • गृह मंत्री अमित शाह ने नई दिल्ली में भारत वंदना पार्क के शिलान्यास समारोह में हिस्सा लिया।

अंतर्राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • TRAI ने 31 दिसम्बर, 2020 तक इंटरकनेक्शन यूसेज चार्ज को बढ़ाया।
  • संचार मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने राष्ट्रीय ब्रॉडबैंड मिशन लांच किया, इसके तहत 2022 तक सभी गावों को ब्रॉडबैंड से जोड़ा जाएगा।
  • स्मार्टफ़ोन कंपनी ‘रियल मी’ ने वित्तीय सेवा प्लेटफार्म ‘रियल मी पैसा’ लांच किया।

अंतर्राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • विश्व आर्थिक फोरम के लिंग भेद सूचकांक में भारत को 112वां स्थान प्राप्त हुआ।
  • 2019 में विश्व भर में 49 पत्रकारों की हत्या हुई : रिपोर्टर्स विदआउट बॉर्डर्स ।
  • देशद्रोह के आरोप में पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज़ मुशर्रफ को मृत्युदंड की सजा सुनाई गयी।

खेल कूद करेंट अफेयर्स

  • ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर एलिस पेरी ने जीता ICC वुमन क्रिकेटर ऑफ़ द ईयर का अवार्ड।
  • इंग्लैंड के क्रिकेटर बेन स्टोक्स ने जीता बीबीसी स्पोर्ट्स पर्सनालिटी ऑफ़ द ईयर का ख़िताब।

 

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

DRDO ने सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस का सफल परीक्षण किया

रक्षा अनुसन्धान व विकास संगठन (DRDO) ने सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस के संस्करणों का सफल परीक्षण किया। यह परीक्षण ओडिशा के चांदीपुर में इंटीग्रेटेड टेस्ट रेंज में किया गया। पहले मिसाइल के भूमि संस्करण का परीक्षण मोबाइल लांचर से किया गया। जबकि ब्रह्मोस के वायु संस्करण का परीक्षण भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमान से किया गया। इन दोनों परीक्षणों में मिसाइल ने अपने लक्ष्य को सफलतापूर्वक ध्वस्त किया।

ब्रह्मोस मिसाइल

ब्रह्मोस मिसाइल का नाम दो नदियों के नामों को जोड़कर बनाया गया है, यह नाम भारतीय नदी “ब्रह्मपुत्र” तथा रूस की “मोस्कवा” नदी के नाम को मिलाकर बनाया गया है। इस मिसाइल की रेंज लगभग 290 किलोमीटर है।

ब्रह्मोस एक माध्यम रेंज की सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल है, इसे पनडुब्बी, समुद्री जहाज़, लड़ाकू विमान व ज़मीन से दागा जा सकता है। ब्रह्मोस रूस की NPO और भारत के DRDO के बीच एक संयुक्त उपक्रम है। ब्रह्मोस मिसाइल 3 मैक (ध्वनि से तीन गुना तेज़) की गति से अपने लक्ष्य को भेदने की क्षमता रखती है। वर्तमान में इसकी गति को 5 मैक तक करने पर कार्य किया जा रहा है। यह मिसाइल रूसी मिसाइल पी-800 ओनिक्स पर आधारित है। इस मिसाइल का नाम भारत की नदी ब्रह्मपुत्र और रूस की नदी मोस्कवा के नाम को मिलाकर ‘ब्रह्मोस’ रखा गया है। वर्तमान में ब्रह्मोस मिसाइल के हाइपरसोनिक संस्करण को विकसित किया जा रहा है, यह हाइपरसोनिक संस्करण 7-8 मैक की गति से लक्ष्य भेदने में सक्षम होगी। फिलहाल यह हाइपरसोनिक संस्करण लगभग 2020 में परीक्षण के लिए तैयार होगा।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

Advertisement