हिंदी करेंट अफेयर

औद्योगिक नीति व संवर्धन विभाग का नाम बदलकर उद्योग संवर्धन व आंतरिक व्यापार विभाग किया गया

हाल ही में औद्योगिक नीति व संवर्धन विभाग (DIPP) का नाम बदलकर उद्योग संवर्धन व आंतरिक व्यापार विभाग किया गया। यह विभाग केन्द्रीय वाणिज्य मंत्रालय के अधीन कार्य करेगा। राष्ट्रपति द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि अब यह विभाग स्टार्ट-अप्स, व्यापारिक सहजता तथा अन्य कार्य करेगा।

मुख्य बिंदु

पहले आन्तरिक व्यापार केन्द्रीय उपभोक्ता मंत्रालय के अधीन था, अब यह कार्य भी उद्योग संवर्धन व आंतरिक व्यापार विभाग द्वारा किया जायेगा। इस नए आदेश के साथ अब आंतरिक तथा बाह्य व्यापार दोनों को केन्द्रीय वाणिज्य व उद्योग मंत्रालय के अधीन रखा गया है। इससे समन्वय में वृद्धि होगी तथा व्यापार में भी वृद्धि होगी। काफी लम्बे समय से अखिल भारतीय व्यापारी महासंघ द्वारा आन्तरिक व्यापार के लिए अलग मंत्रालय की स्थापना की मांग की जा रही है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

भारतीय डाक विभाग ने बचत बैंक खाताधारकों के लिए लांच की इन्टरनेट सुविधा

भारतीय डाक विभाग ने बचत बैंक खाताधारकों के लिए इन्टरनेट सुविधा लांच की। इसे हाल ही में केन्द्रीय संचार मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मनोज सिन्हा ने राष्ट्रीय मीडिया केंद्र में लांच किया। इस इवेंट में ग्रामीण शिल्पकारों के लिए ई-कॉमर्स पोर्टल तथा भारतीय डाक विभाग की परिवर्तित वेबसाइट को भी लांच किया गया।

सुविधाएं

  • ग्राहक ऑनलाइन ही पोस्ट ऑफिस बचत बैंक खाते से किसी दूसरे खाते में पैसे भेज सकते हैं।
  • ई-कॉमर्स पोर्टल से ग्रामीण शिल्पकारों को बाज़ार उपलब्ध होगा, जहाँ वे अपने सामान बेच सकते हैं।
  • भारतीय डाक के पास 1.5 लाख स्थानों में विशाल नेटवर्क है।
  • इन स्थानों में स्पीड पोस्ट के द्वारा सामान पहुँचाया जा सकता है।
  • ऑनलाइन मार्केट में सामान को वापस करने की सुविधा भी है।
  • पहले 6 महीने के लिए विक्रेता का पंजीकरण निशुल्क किया जायेगा।

भारतीय डाक

भारतीय डाक की स्थापना 1 अप्रैल, 1854 को की गयी थी, यह केन्द्रीय संचार मंत्रालय के अधीन कार्य करता है। यह विश्व के सबसे बड़े डाक नेटवर्क में से एक है। भारत को 23 पोस्टल सर्किल में विभाजित किया गया, पोस्टल सर्किल का नियंत्रण चीफ पोस्टमास्टर के अधीन होता है। भारतीय डाक द्वारा सेना डाक सेवा, इलेक्ट्रॉनिक इंडियन पोस्टल आर्डर, पोस्टल जीवन बीमा, पोस्टल बचत, बैंकिंग, डाटा संग्रहण, ई-कॉमर्स इत्यादि सेवाएं प्रदान की जाती है। पोस्टेज स्टैम्प पिन कोड होते हैं जिनके द्वारा किसी स्थान को चिन्हित किया जाता है।

पोस्टल स्टैम्प : इनका उपयोग पोस्टेज तथा सेवाओं में किया जाता है, भारत में विभिन्न थीम युक्त विभिन्न स्टैम्प्स उत्पादित की जातीं हैं। एशियाई में सबसे पहली पोस्टल स्टैम्प भारत में जुलाई, 1852 में बार्टल फ़्रेरे ने जारी की थी।

पिन कोड : पोस्टल इंडेक्स नंबर 6 अंकीय संख्या है, इसकी शुरुआत 15 अगस्त, 1972 को की गयी थी। भारत के 9 पिन क्षेत्रों में से 8 का उप्य्गो भौगोलिक क्षेत्रों के लिए तथा एक का उपयोग आर्मी डाक सेवा के लिए किया जाता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement