AMRAAM

भारत ने फ्रांस से मिटियोर मिसाइल की डिलीवरी शीघ्र करने की मांग की

भारत ने फ्रांस से मिटियोर मिसाइल की डिलीवरी शीघ्र करने की मांग की है। इन मिसाइलों के द्वारा भारत पाकिस्तानी वायुसेना को अमेरिका द्वारा प्रदान की गयी AMRAAM मिसाइलों का मुकाबला दक्षता से कर सकेगा।

इन मिसाइलों की डिलीवरी भारत को 2020 में होनी है, परन्तु भारत इन मिसाइलों की शीघ्र डिलीवरी के लिए मांग कर रहा है। भारत पहले राफेल लड़ाकू विमानों के लिए कम से कम 10 मिटियोर मिसाइलों की एडवांस डिलीवरी की मागं कर रहा है। भारत को मई, 2020 तक राफेल जेट की पहली खेप मिल जायेगी।

मिटियोर मिसाइल

यह हवा से हवा में मार कर सकने वाली मिसाइल है, इसकी रेंज 150 किलोमीटर है। भारत इन मिसाइलों का उपयोग राफेल लड़ाकू विमाओं का साथ करेगा। भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव के कारण भारत इन मिसाइल की डिलीवरी शीघ्र चाहता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , , , , ,

अमेरिका ने दक्षिण कोरिया और जापान को मिसाइल बेचे जाने के लिए मंज़ूरी दी

संयुक्त राज्य अमेरिका ने हाल ही में दक्षिण कोरिया और जापान को एंटी-बैलिस्टिक मिसाइल बेचे जाने के लिए मंज़ूरी दी। इस विक्रय की लागत लगभग 600 मिलियन डॉलर है।

मुख्य बिंदु

इसका उद्देश्य इन दो देशों की राष्ट्रीय सुरक्षा को मज़बूत बनाना है।  इससे न केवल क्षेत्र में सैन्य संतुलन बनेगा बल्कि यह दो देश उत्तरी कोरिया से अपनी रक्षा भी कर सकेंगे। उत्तरी कोरिया की बढ़ती हुई सैन्य क्षमता अमेरिका, दक्षिण कोरिया तथा जापान के लिए चिंता का विषय है।

मई के दूसरे सप्ताह में उत्तरी कोरिया ने दो लघु-रेंज की मिसाइलों का परीक्षण किया था। उससे पहले अप्रैल में उत्तर कोरिया के लीडर किम जोंग उन ने “टैक्टिकल गाइडेड वेपन” के परीक्षण का अधीक्षण किया था।

अमेरिका ने दक्षिण कोरिया तथा जापान को 92 स्टैण्डर्ड मिसाइल-2 बेचे जाने को मंज़ूरी दी है, इस सौदे की कुल लागत 313.9 मिलियन डॉलर है। इसके अलावा जापान को 160 एंटी एयर AMRAAM मिसाइल बेचीं जायेंगी, इसकी लागत 317 मिलियन डॉलर है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement