Bill and Melinda Gates Foundation

नीति आयोग द्वारा शुरू किया गया व्यवहार परिवर्तन अभियान

नीति आयोग ने एक व्यवहार परिवर्तन अभियान ‘नेविगेट द न्यू नोर्मल’ लांच किया।  बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन इस व्यवहार परिवर्तन अभियान के लिए एक भागीदार है।

अभियान का उद्देश्य

जैसा कि देश अब अनलॉक चरण में है, इसका उद्देश्य देश में एक उपयुक्त COVID सुरक्षित व्यवहार विकसित करना है, जैसे कि लोगों को अपनी दिनचर्या के हिस्से के रूप में मास्क पहनने के लिए अनुकूल बनाना। जब तक एक वैक्सीन विकसित नहीं हो जाती, तब तक देश के नागरिकों के लिए यह आवश्यक है कि वे हाथ की सफाई, मास्क पहनने आदि का अभ्यास करके अपने दैनिक जीवन में कुछ व्यवहारगत बदलावों को अपनाएं।

अभियान के बारे में

व्यवहार परिवर्तन अभियान एम्पावर्ड ग्रुप 6 के मार्गदर्शन में तैयार किया गया है। व्यवहार परिवर्तन अभियान के दो भाग हैं:

  • वेब पोर्टल ( http://www.covidthenewnormal.com/): इसमें COVID से सुरक्षित रहने के लिए आवश्यक व्यवहार मानदंड शामिल हैं।
  • मीडिया अभियान: जैसा कि महामारी ने देश भर में लोगों के आवागमन को प्रतिबंधित कर दिया है, लोग टेलीविजन या इंटरनेट पर अधिक समय व्यतीत कर रहे हैं। व्यवहार परिवर्तन अभियान का उद्देश्य विज्ञापन, बच्चों के लिए एनीमेशन, सोशल नेटवर्किंग साइटों पर आभासी जागरूकता अभियानों आदि के माध्यम से देश भर में लाखों लोगों तक पहुंच बनाना है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

ग्रामीण विकास मंत्रालय ने बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के साथ MoU पर हस्ताक्षर किये

हाल ही में केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय तथा बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ने MoU पर हस्ताक्षर किये हैं। इस MoU पर दीनदयाल अन्त्योदय योजना – राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत हस्ताक्षर किये गये हैं। इस MoU का उद्देश्य ज़मीनी स्तर पर ग्रामीण संस्थानों को मज़बूत बनाना है। इसके द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में रोज़गार का सृजन करके निर्धन व वंचित लोगों के जीवन को सुधारने के लिए प्रयास किया जाएगा।

दीनदयाल अंत्योदय योजना – राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका अभियान

दीनदयाल अंत्योदय योजना – राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका अभियान ग्रामीण क्षेत्रों में निर्धनता उन्मूलन के लिये भारत सरकार के ग्रामीण विकास विभाग के सबसे प्रमुख कार्यक्रमों में से एक है।

इसका लक्ष्य निर्धन ग्रामीण महिलाओं को खुद की संस्थाओं – सहायता समूह एवं उनके अन्य संघों जैसे- प्रोड्यूसर्स कलेक्टिव्स एवं ऐसे अन्य संघों में संगठित होने में मदद करने के आलावा उनको आजीविका एवं वित्तीय समावेशन में मदद करना भी है।

दीनदयाल अंत्योदय योजना – राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका अभियान का एक महत्त्वपूर्ण अंग निर्धन ग्रामीण युवकों को स्वरोज़गार और मजदूरी आधारित रोज़गार के लिये प्रशिक्षण प्रदान करना है। इसके लिये मंत्रालय दीनदयाल अंत्योदय योजना – राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका अभियान के तहत दीनदयाल उपाध्याय – ग्रामीण कौशल्य योजना (डीडीयू-जीकेवाई) को लागू कर रही है।

दीनदयाल उपाध्याय – ग्रामीण कौशल्य योजना एक रोज़गार से जुड़ी कौशल विकास योजना है जिसका उद्देश्य निर्धन ग्रामीण युवाओं के कौशल का विकास करना और उन्हें ज़्यादा मज़दूरी वाले अर्थव्यवस्था के क्षेत्रों में रोज़गार दिलवाना है।

बिल एंड मेलिंडा फाउंडेशन

यह एक निजी फाउंडेशन है, इसकी स्थापना बिल गेट्स तथा उनकी पत्नी मेलिंडा गेट्स द्वारा की गयी थी। इसकी स्थापना वर्ष 2000 में की गयी थी, यह सीएटल में स्थित है। यह विश्व की सबसे बड़ी परोपकारी संस्थाओं में से एक है। इसके तीन ट्रस्टी हैं : बिल गेट्स, मेलिंडा गेट्स तथा वारेन बफेट। यह संस्था विकासशील देशों में लोगों के स्वास्थ्य में सुधार करने तथा उनके जीवन स्तर को बेहतर बनाने के लिए कार्य करती है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

Advertisement