BSF

BSF के महानिरीक्षक अभिनव कुमार को कार्य विस्तार दिया गया

कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने BSF के महानिरीक्षक अभिनव कुमार को कार्य विस्तार देने के लिए मंज़ूरी दे दी है। आईपीएस अभिनव कुमार अब 27 जून, 2021 तक कार्य करेंगे।

बॉर्डर सिक्यूरिटी फ़ोर्स (BSF)

BSF भारत की सीमाओं की सुरक्षा करती है, इसे भारतीय क्षेत्र की सीमा सुरक्षा की पहली पंक्ति भी कहा जाता है। यह पाकिस्तान और बांग्लादेश के साथ भारतीय सीमा की सुरक्षा करता है। BSF 1 दिसम्बर, 1965 को अस्तित्व में आया था, इसका उद्देश्य देश की सीमाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करना था। इस निर्माण कई राज्य सशस्त्र पुलिस बटालियन के विलय से किया गया था। यह देश की पांच केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों में से एक है, इनका नियंत्रण केन्द्रीय गृह मंत्रालय के पास है। इसका प्रमुख कार्य शांति काल में देश की सीमाओं की सुरक्षा करना है। BSF विश्व का सबसे बड़ा सीमा सुरक्षा बल है। इसमें 186 बटालियन हैं, इसमें 2,57,363 कर्मचारियों की स्वीकृत संख्या है। इसमें एयर विंग, मरीन विंग, आर्टिलरी रेजिमेंट तथा कमांडो यूनिट भी शामिल हैं। BSF को भारत-पाक अंतर्राष्ट्रीय सीमा, भारत-बांग्लादेश अंतर्राष्ट्रीय सीमा तथा नियंत्रण रेखा में भारतीय सेना के साथ तैनात किया जाता है। यह नक्सल विरोधी ऑपरेशन में भी कार्य करता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

एस. एस. देसवाल को CRPF महानिदेशक का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया

एस. एस. देसवाल को नियुक्त CRPF महानिदेशक का कार्यभार सौंपा गया। CRPF के महानिदेशक आर.आर. भटनागर 31 दिसम्बर, 2019 को सेवानिवृत्त हो गये हैं। एस. एस. देसवाल इससे पहले BSF और सशस्त्र सीमा बल (SSB)  के महानिदेशक थे। वे 1984 बैच के हरियाणा कैडर के आईपीएस अफसर हैं।

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF)

सीआरपीएफ कुल 246 बटालियनों के साथ भारत में सबसे बड़ी केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल या अर्धसैनिक बल है। यह गृह मंत्रालय (MHA) के तहत काम करता है। यह 1939 में क्राउन प्रतिनिधि पुलिस के तहत स्थापित किया गया था, लेकिन आजादी के बाद, इसे सीआरपीएफ अधिनियम, 1949 से सांविधिक पुलिस बल बनाया गया था।

इसका लक्ष्य सरकार को कानून, सार्वजनिक आदेश और आंतरिक सुरक्षा को प्रभावी ढंग से और कुशलता से बनाए रखने, राष्ट्रीय अखंडता को संरक्षित करने और संविधान की सर्वोच्चता को कायम रखकर सामाजिक सद्भाव और विकास को बढ़ावा देना है।

कानून व्यवस्था बनाए रखने और विद्रोह को नियंत्रित करने के लिए पुलिस परिचालन में राज्यों / संघ शासित प्रदेशों की सहायता करना इसकी प्राथमिक भूमिका है। नक्सली विरोधी अभियानों के अलावा, सीआरपीएफ कर्मियों ने आतंकवादी हमलों, आतंकवाद विरोधी अभियानों जैसे संकटों की स्थिति में कई परिचालन किए हैं, जो आतंकवादी हमलों के दौरान नागरिकों का  बचाव करते हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

Advertisement