CAPF

केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने पुलिस संगठनों के बारे में डाटा जारी किया

हाल ही में केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने 24 अक्टूबर, 2019 को पुलिस संगठनों के बारे में डाटा जारी किये, यह डाटा पुलिस के विश्लेषण के लिए महत्वपूर्ण है।

रिपोर्ट के मुख्य बिंदु

  • 2017 से पुलिस कर्मचारियों की संख्या में वृद्धि हुई है, पुलिस कर्मचारियों की संख्या में 19,686 की वृद्धि हुई है। केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (CAPF) की संख्या में 16,051 की वृद्धि हुई है।
  • महिला पुलिस कर्मचारियों की संख्या में 20.95% की वृद्धि हुई है। वर्तमान में विभिन्न पदों पर 1,69,550 महिला पुलिस कर्मचारी/अधिकारी कार्यरत्त हैं।
  • पुलिस बलों के प्रशिक्षण पर किये जाने वाले व्यय में 20.41% की वृद्धि हुई है।
  • पुलिस जनसँख्या अनुपात 192.95 पुलिस कर्मचारी प्रति लाख व्यक्ति है।
  • पुलिस कर्मचारियों के लिए 20,149 फैमिली क्वार्टर्स निर्मित किये गये हैं।
  • पुलिस स्टेशनों की संख्या 15,579 से बढ़कर 16,422 हो गयी है।
  • साइबर पुलिस स्टेशनों की संख्या 84 से बढ़कर 120 हो गयी है।
  • निगरानी के लिए 2,10,278 नए सीसीटीव कैमरे स्थापित किये गये हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

सरकार ने अर्द्धसैनिक बलों को कश्मीर से निशुल्क हवाई यात्रा की घोषणा की

केंद्र सरकार ने आदेश जारी करते हुए दिल्ली-श्रीनगर, श्रीनगर-दिल्ली, जम्मू-श्रीनगर, श्रीनगर-जम्मू सेक्टर में सभी केन्द्रीय सशस्त्र बलों को निशुल्क हवाई यात्रा को मंज़ूरी दी। अब CAPF के सैनिक ड्यूटी ज्वाइन करने, स्थानांतरण, टूर अथवा छुट्टी पर जाने के लिए निशुल्क हवाई यात्रा कर सकते हैं।

इससे पहले यह सुविधा इंस्पेक्टर रैंक तथा इससे ऊपर के रैंक वाले अधिकारियों के लिए उपलब्ध थी। अब इस सुविधा को कांस्टेबल रैंक, हेड कांस्टेबल तथा असिस्टेंट सब-इंस्पेक्टर तक पहुँचाया गया है। इस निर्णय से लगभग 7.8 लाख अर्द्धसैनिक बल लाभान्वित होंगे।

अब CAPF के सैनिक किसी भी वाणिज्यिक फ्लाइट के टिकेट लेकर यात्रा कर सकते हैं, बाद में उनके संगठन द्वारा इसकी प्रतिपूर्ति की जायेगी।

यह निर्णय CAPF के लिए पहले से मौजूद एयर कूरियर सर्विस का बढ़ा हुआ स्वरुप है, इसके तहत दिल्ली, जम्मू तथा कश्मीर में सैनिकों के परिवहन के लिए पूरा एयरक्राफ्ट बुक किया जाता है।

पुलवामा आतंकवादी हमला

14 फरवरी, 2019 को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में CRPF के जवानों पर आतंकी हमला किया गया, इस हमले में CRPF के 42 जवान शहीद हुए। इस हमले की ज़िम्मेदारी इस्लामिक चरमपंथी संगठन जैश-ए-मुहम्मद ने ली थी। इस दौरान सैनिक बस में यात्रा कर रहे थे। इस पर सवाल उठाये गये थे कि सैनिकों हवाई मार्ग से यात्रा की अनुमति क्यों नहीं दी गयी जब सड़क मार्ग से यात्रा करने में खतरा है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement