FASTag

एनपीसीआई ने ‘पाई’ नामक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस वर्चुअल असिस्टेंट लॉन्च किया

27 मई, 2020 को नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आधारित चैटबोट लॉन्च किया, जिसे ‘पाई’ नाम दिया गया है। इस चैटबोट का उद्देश्य भारत में वित्तीय समावेशन को बढ़ाना है।

मुख्य बिंदु

PAI को 24/7 इस्तेमाल किया जा सकता है। यह एनपीसीआई उत्पादों के बारे में जानकारी प्रदान करता है। उपयोगकर्ता टेक्स्ट या आवाज के माध्यम से प्रश्न भेज सकते हैं। प्रश्न भेजने के लिए उपयोगकर्ता RuPay, NPCI और UPI की वेबसाइटों का उपयोग करेंगे। वर्तमान में PAI अंग्रेजी और हिंदी भाषाओं में उपलब्ध है। इसे जल्द ही अन्य भाषाओं में भी लॉन्च किया जायेगा।

AI आधारित इस चैटबॉट को बेंगलुरु बेस्ड स्टार्टअप CoRover ने बनाया है।

राष्ट्रीय भुगतान निगम (National Payments Corporation  of India)

भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम भारत में खुदरा भुगतान से सम्बंधित कार्य करता है। इसे भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा प्रमोट किया जाता है। इसकी स्थापना 2008 में गैर-लाभकारी संस्था के रूप में की गयी थी। भारत के स्वदेशी पेमेंट कार्ड ‘RuPay’ के विकास में NPCI की भूमिका काफी महत्वपूर्ण थी।

सेवाएं

एनपीसीआई द्वारा प्रदान की जा रही सेवाएं इस प्रकार हैं:

  • भारत बिल पेमेंट सिस्टम: यह वन-स्टॉप बिल भुगतान प्रणाली है।
  • BharatQR: यह एक कोड है जिसे भुगतान में आसानी और इंटरओपेराबिलिटी के लिए विकसित किया गया है।
  • BHIM: एकीकृत भुगतान इंटरफेस के लिए एक मोबाइल एप्लिकेशन
  • IMPS (तत्काल भुगतान सेवा):  रियल टाइम इंटर-बैंक भुगतान प्रणाली नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड
  • FASTag
  • RuPay
  • एकीकृत भुगतान इंटरफ़ेस (UPI)

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

कॉमन सर्विस सेंटर ने फास्टैग के लिए पेटीएम पेमेंट्स बैंक के साथ साझेदारी की

कॉमन सर्विस सेंटर ने फास्टैग के विक्रय के लिए पेटीएम पेमेंट्स बैंक के साथ साझेदारी की है। फास्टैग को अब सभी वाहनों के लिए अनिवार्य कर दिया गया है। कॉमन सर्विस सेंटर अपने Village Level Entrepreneurs (VLEs) के द्वारा फास्टैग का विक्रय करेंगे।

FASTag क्या है?

FASTag इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रहण प्रणाली है, इसका संचालन राष्ट्रीय उच्चमार्ग प्राधिकरण (NHAI) द्वारा किया जा रहा है। FASTag के द्वारा टोल प्लाजा में रुके बिना ही व्यक्ति के खाते से टोल चार्ज अपने आप कट जायेगा, अब टोल कर अदा करने के लिए गाड़ी रोकने की ज़रुरत नहीं पड़ेगी।

FASTag एक प्रीपेड अकाउंट से जुड़े हुए होते हैं, इसके द्वारा टोल प्लाजा से गुजरते हुए व्यक्ति के खाते से टोल अपने आप ही कट जायेगा। FASTag के लिए रेडियो-फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन टेक्नोलॉजी का उपयोग किया जा रहा है।

FASTag की विशेषताएं

  • FASTag को ग्राहक अपनी पसंद के बैंक खाते से लिंक कर सकते हैं।
  • इससे ग्राहकों को काफी सुविधा होगी।
  • FASTag एप्प की सहायता से किसी भी FASTag को रिचार्ज किया जा सकता है।
  • बाद में FASTag का उपयोग पेट्रोल पंप पर इंधन को खरीदने के लिए भी किया जा  सकता है।

रेडियो-फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन टेक्नोलॉजी (RFID)

रेडियो-फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन टेक्नोलॉजी इलेक्ट्रोमैग्नेटिक फील्ड का उपयोग करता है, यह उन टैग्स को डिटेक्ट करता है जिनमे इलेक्ट्रानिकली सूचना स्टोर की जाती है।

एक द्वि-मार्गीय रेडियो ट्रांसमीटर-रिसीवर टैग के लिए सिग्नल भेजता है तथा उसकी प्रतिक्रिया का अध्ययन करता है। RFID रीडर टैग के लिए एक एनकोडेड रेडियो सिग्नल भेजता है। टैग इस सिग्नल को रिसीव करता है तथा अपनी पहचान के साथ कुछ और सूचना को वापस भेजता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement