FSSAI

FSSAI खाद्य सुरक्षा सूचकांक

भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण ने हाल ही में वर्ष 2019-20 का खाद्य सुरक्षा सूचकांक लॉन्च किया है। गुजरात, तमिलनाडु और महाराष्ट्र ने रैंकिंग में शीर्ष स्थान हासिल किया है।

मुख्य बिंदु

यह सूचकांक पांच मापदंडों के आधार पर तैयार किया गया था :

  • खाद्य परीक्षण सुविधाएं
  • मानव संसाधन और संस्थागत डेटा
  • अनुपालन
  • प्रशिक्षण
  • उपभोक्ता सशक्तिकरण के अलावा क्षमता निर्माण

FSSAI ने “COVID-19 के दौरान ईट राइट” पर एक ई-बुक भी जारी की। इस ई-बुक में सुरक्षित खाद्य प्रथाओं पर प्रकाश डाला गया है जिनका पालन किया जाना चाहिए।

मुख्य निष्कर्ष

छोटे राज्यों में गोवा ने प्रथम स्थान हासिल किया है, इसके बाद मणिपुर और मेघालय के का स्थान  है। केंद्र शासित प्रदेशों में चंडीगढ़, दिल्ली और अंडमान द्वीप समूह रैंकिंग में सबसे ऊपर हैं।

विषय

खाद्य सुरक्षा सूचकांक विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस पर निम्नलिखित थीम जारी किया गया था  :

थीम: खाद्य सुरक्षा सबका व्यवसाय है

यह विषय उन लोगों के लिए समर्पित था जो आपूर्ति श्रृंखला में थे और लॉक डाउन के दौरान सुरक्षित भोजन की निर्बाध उपलब्धता सुनिश्चित कर रहे थे। विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस हर साल 7 जून को मनाया जाता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

FSSAI का BHOG प्रमाणपत्र क्या है?

तमिलनाडु खाद्य सुरक्षा और औषधि प्रशासन ने हाल ही में मंदिरों के व्यवस्थापकों से FSSAI (भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण) से BHOG प्रमाणपत्र प्राप्त करने के लिए कहा है। इसे 2018 में लॉन्च किया गया था।

BHOG क्या है?

BHOG का पूर्ण स्वरुप ‘Blissful Hygiene Offering to God’ है। यह FSSAI द्वारा जारी किया जाने वाला प्रमाण पत्र हैं। BHOG सर्टिफिकेट धार्मिक स्थलों में श्रद्धालुओं को दिए जाने वाले भोजन की गुणवत्ता सुनिश्चित करता है। इसे मंदिरों में खाद्य पदार्थों की स्वच्छता बनाए रखने के लिए एहतियात के तौर पर शुरू किया गया था।

इस परियोजना की शुरुआत FSSAI ने की थी। मंदिरों में खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता बनाए रखने के अलावा यह परियोजना बुनियादी खाद्य सुरक्षा पर खाद्य संचालकों के लिए प्रशिक्षण भी देती है। इसमें गुरुद्वारों, मंदिरों, मस्जिदों को  शामिल किया गया है। इस परियोजना के द्वारा उन प्रसाद स्टॉल और विक्रेताओं के लिए भी BHOG को अनिवार्य कर दिया है जो BHOG प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए मंदिर परिसर में अथवा  उसके आसपास प्रसाद बेचते हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement