GeM

सरकार ने गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस के लिए लांच किया राष्ट्रीय मिशन

केन्द्रीय वाणिज्य व व्यापार मंत्रालय ने गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (GeM) पर राष्ट्रीय मिशन लांच किया, इसका उद्देश्य GeM के बारे में जागरूकता फैलाना तथा प्रमुख्य मंत्रालयों, राज्य सरकारों व उनकी एजेंसियों द्वारा इसके उपयोग को बढ़ावा देना है। GeM के द्वारा केंद्र सरकार के विभाग, राज्य सरकारें व सरकारी कंपनियां इस ऑनलाइन प्लेटफार्म का करके आमतौर पर इस्तेमाल की जाने वाली वस्तुएं व सेवाएं ले सकते हैं।

नेशनल मिशन ऑन गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस

इस मिशन का उद्देश्य वस्तुओं की खरीद को पारदर्शी, कैशलेस व पेपरलेस बनाना है। इससे वस्तुओं की खरीद पर सरकारी व्यय में बचत भी होगी। इस मिशन में केंद्र सरकार के सभी विभाग, राज्य सरकारें तथा सरकारी कंपनियों भी शामिल होंगी। GeM के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए क्रेताओं व विक्रताओं को इस प्लेटफार्म से परिचित किया जायेगा। GeM के द्वारा सूक्ष्म, लघु व मध्य उद्योग, घरेलु निर्माता, महिला उद्यमी तथा स्वयं सहायता समूह अपने उत्पाद व सेवाएं सरकारी विभागों को प्रदान कर सकते हैं। इससे उनकी व्यापारिक गतिविधियों में भी वृद्धि होगी।

गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस

यह एक ऑनलाइन मार्केटप्लेस है, जहाँ पर विभिन्न सरकारी विभाग व एजेंसियां अपनी आवश्यकता की वस्तुएं व सेवाएं खरीद सकती हैं। इससे सरकारी विभागों वस्तुओं की खरीद में पारदर्शिता, कैशलेस व पेपरलेसनेस को बढ़ावा मिलेगा। इससे वस्तुओं की खरीद पर सरकारी व्यय में बचत भी होगी। इसे अगस्त, 2018 में लांच किया गया था, अब तक इस प्लेटफार्म पर मूल्य के मामले में 10,800 करोड़ रुपये तथा लेनदेन के मामले में 6.96 लाख करोड़ रुपये का आंकड़ा पार कर लिया गया है। GeM प्लेटफार्म पर 1.35 विक्रेता मौजूद हैं जो 4.43 लाख वस्तुओं का विक्रय करते हैं।  इस प्लेटफार्म पर लगभग 26,500 क्रेता संगठन मौजूद हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

Advertisement