Golden Chariot Train

IRCTC ने गोल्डन चेरियट ट्रेन के संचालन के लिए KSTDC के साथ MoU पर हस्ताक्षर किये

IRCTC (Indian Railway Catering and Tourism Corporation Limited) ने गोल्डन चेरियट ट्रेन के संचालन के लिए KSTDC (Karnataka State Tourism Development Corporation) के साथ MoU पर हस्ताक्षर किये हैं।

मुख्य बिंदु

KSTDC शीघ्र ही गोल्डन चेरियट ट्रेन का नियंत्रण IRCTC को सौंपेगा। IRCTC इन ट्रेनों में थोड़ा-बहुत बदलाव करके मार्च, 2020 तक गोल्डन चेरियट ट्रेन का संचालन शुरू कर देगा।  गोल्डन चेरियट ट्रेन कर्नाटक, केरल, पुदुचेरी तथा अन्य दक्षिण भारतीय राज्यों को कवर करती है। अब इस ट्रेन के द्वारा बांदीपुर, हम्पी, मैसूर, चिकमंगलूर, गोवा तथा बीजापुर जैसे स्थानों को कवर किया जा सकता है। इससे दक्षिण भारत में पर्यटन में वृद्धि होगी।

गोल्डन चेरियट ट्रेन

यह कर्नाटक सरकार तथा केन्द्रीय रेलवे मंत्रालय की साझा पहल है। इसके तहत 2008 से ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है। इस ट्रेन में 18 कोच होते हैं, जिसमे 44 गेस्ट रूम होते हैं, इनमे 84 मेहमान रह सकते हैं। यह कर्नाटक तथा दक्षिण भारत के प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों को कवर किया जाता है। नुकसान के कारण कर्नाटक सरकार ने इस ट्रेन का संचालन बंद कर दिया था।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

Advertisement