IAF

भारतीय वायु सेना ने तीन मुख्य परियोजनाओं को स्थगित किया

18 मई, 2020 को भारतीय वायु सेना प्रमुख आर.के.एस. भदौरिया ने घोषणा की कि वायुसेना 8,000 करोड़ रुपये की तीन मुख्य परियोजनाओं को स्थगित कर रही है। ऐसा इसलिए है क्योंकि केंद्र सरकार मेक इन इंडिया पर जोर दे रही है। वर्तमान में, भारत सरकार ने स्वदेशीकरण पर काफी बल दिया है।

मुख्य बिंदु

प्रधानमंत्री मोदी ने हाल ही में आत्म निर्भर भारत अभियान की घोषणा की जिसके तहत भारत सरकार ने कई सुधार किए हैं। इसमें रक्षा उत्पादन का स्वदेशीकरण भी शामिल है। इसे हासिल करने के लिए, सरकार कुछ उत्पादों के आयात पर प्रतिबंध लगाएगा।

परियोजनाओं के बारे में

इन स्थगित परियोजनाओं में यूनाइटेड किंगडम से 20 अतिरिक्त हॉक प्लेन, अमेरिका से 30 जैगुआर लड़ाकू विमान और 38 ट्रेनर विमान खरीदने की योजना शामिल है।

विकल्प

विदेशों में इन लड़ाकू विमानों को प्राप्त करने के बजाय, भारतीय वायुसेना को एचएएल (हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड) का समर्थन हासिल करेगी। IAF इंजन से संबंधित उन्नयन के लिए HAL से सहायता लेगा।

साथ ही, स्विट्जरलैंड से पिलातुस बुनियादी प्रशिक्षण विमान खरीदने की योजना को भी खत्म कर दिया गया है। यह परियोजना 1000 करोड़ रुपये की थी। इसे हटा दिया गया है क्योंकि एचएएल ने पहले ही HTT-40 ट्रेनर विमानों को विकसित कर लिया है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

भारत और यूनाइटेड किंगडम के बीच इंद्रधनुष अभ्यास का समापन हुआ

हाल ही में इंद्रधनुष युद्ध अभ्यास का समापन हुआ। भारत और यूनाइटेड किंगडम के बीच इंद्र धनुष अभ्यास का आरम्भ 24 फरवरी, 2020 को हुआ था। यह भारतीय वायुसेना और यूनाइटेड किंगडम की रॉयल एयर फ़ोर्स के बीच एक संयुक्त सैन्य अभ्यास है।

मुख्य बिंदु

यह अभ्यास “Base Defence and Force Protection” पर आधारित है। इस अभ्यास में रॉयल एयर फ़ोर्स के 36 स्पेशलाइज्ड लड़ाकूओं ने हिस्सा लिया। जबकि भारत की ओर से 42 गरुड़ कमांडों ने हिस्सा लिया। इस अभ्यास का आयोजन हिंडन एयर फ़ोर्स स्टेशन में किया गया।

हिंडन एयर फ़ोर्स स्टेशन

हिंडन एयर फ़ोर्स स्टेशन वेस्टर्न एयर कमांड के अधीन कार्य करता है। यह विश्व का आठवां सबसे बड़ा एयर बेस तथा एशिया का सबसे बड़ा एयर बेस है। यह एयर बेस उत्तर प्रदेश के गाज़ियाबाद में स्थित है।

गरुड़ कमांडो फ़ोर्स

गरुड़ कमांडो फ़ोर्स का गठन सितम्बर, 2004 में किया गया था। इसका प्रमुख कार्य एयर बेस की सुरक्षा करना, आपदा राहत, खोज व बचाव कार्य करना है। वर्तमान में गरुड़ कमांडो कांगो में संयुक्त राष्ट्र के शांति मिशन में भी तैनात हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

Advertisement