IEA

IEA ने जारी की ‘इंडियाज़ एनर्जी पालिसी’ रिपोर्ट

10 जनवरी, 2020 को अंतर्राष्ट्रीय उर्जा एजेंसी (IEA) ने इंडियाज़ एनर्जी पालिसी’ रिपोर्ट जारी की। इस रिपोर्ट के मुताबिक भारत को नीति आयोग की ‘राष्ट्रीय उर्जा नीति’ को अपनाना चाहिए। IEA ने ‘इंडिया रिपोर्ट 2020’ नीति आयोग के साथ मिलकर लांच की है।

रिपोर्ट के मुख्य बिंदु

  • 2020 के मध्य तक भारत की तेल की मांग चीन से भी ज्यादा हो जायेगी, इसके कारण मध्य-पूर्व में अशांति से भारत की तेल आपूर्ति काफी प्रभावित होने के आसार हैं। 2024 तक भारत की तेल की मांग 6 मिल्लिनो बैरल प्रतिदिन पहुँच जाएगी, 2017 में भारत की तेल की मांग 4.4 मिलियन बैरल प्रति दिन थी।
  • इस रिपोर्ट के मुताबिक चीन और अमेरिका के बाद भारत तेल का तीसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता देश है। भारत अपनी आवश्यकता का 80% तेल आयात करता है, इसमें से 65% तेल मध्य पूर्व से होरमुज़ जलसन्धि से होकर आता है।
  • भारत विश्व का चौथा सबसे बड़ा तेल शोधक देश है। भारत की तेल शोधन क्षमता 2025 तक 8 मिलियन बैरल प्रतिदिन हो जायेगी।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

स्वच्छ उर्जा में नवोन्मेष को बढ़ावा देने के लिए बायोटेक्नोलॉजी विभाग ने अंतर्राष्ट्रीय उर्जा एजेंसी के साथ MoU पर किये हस्ताक्षर

केन्द्रीय विज्ञान व प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अधीन बायोटेक्नोलॉजी विभाग ने अंतर्राष्ट्रीय उर्जा एजेंसी (IEA) के साथ स्वच्छ उर्जा में नवोन्मेष के लिए MoU पर हस्ताक्षर किये। इस MoU पर बायोटेक्नोलॉजी विभाग की सचिव डॉ. रेणु स्वरुप तथा अंतर्राष्ट्रीय उर्जा एजेंसी के कार्यकारी निदेशक डॉ. फतीह बिरोल द्वारा हस्ताक्षर किये गए।

मुख्य बिंदु

इस MoU का उद्देश्य भारत में स्वच्छ उर्जा क्षेत्र में अनुसन्धान व विकास पर बल देना है। इस MoU के द्वारा उर्जा नीति तथा इससे सम्बंधित डाटा संग्रहण व विश्लेषण में सहयोग सुनिश्चित किया जायेगा। IEA एक स्वायत्त अंतरसरकारी संगठन है, यह 30 सदस्य देशों के साथ मिलकर विश्वसनीय, सस्ती व स्वच्छ उर्जा उपलब्ध करवाने के लिए कार्य करता है।

अंतर्राष्ट्रीय उर्जा एजेंसी (IEA)

अंतर्राष्ट्रीय उर्जा एजेंसी एक अंतरसरकारी संगठन है, इसकी स्थापना 1974 में आर्थिक सहयोग व विकास संगठन के तहत की गयी थी। इसकी स्थापना 1973 के तेल संकट के बाद की गयी थी, जब OPEC ने तेल की कीमतों में अत्याधिक बढ़ोतरी की थी। वर्तमान में भारत समेल IEA के 30 सदस्य देश हैं। इसका मुख्यालय फ्रांस की राजधानी पेरिस में स्थित है।

IEA मुख्य तीन बिन्दुओं पर फोकस करता है : उर्जा सुरक्षा, आर्थिक विकास और पर्यावरण संरक्षण। यह वैकल्पिक उर्जा तथा उर्जा नीतियों के सन्दर्भ में भी कार्य करता है। यह 29 सदस्य देशों के लिए उर्जा नीति सलाहकार के रूप में भी कार्य करता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement