iit कानपूर

गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह का निधन हुआ

जाने-माने गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह का निधन हुआ, उन्हें भारत के आइंस्टीन के रूप में जाना जाता है। उनका निधन 14 नवम्बर को हुआ। उनका जन्म बिहार में हुआ था। वे पिछले 35 वर्षों से स्किज़ोफ्रेनिया से पीड़ित थे।

वशिष्ठ नारायण सिंह

उनका जन्म बिहार के भोजपुर जिले में 2 अप्रैल, 1942 को हुआ था। 1965 में वे अमेरिका गये, वहां उन्होंने कैलिफ़ोर्निया विश्वविद्यालय से पीएचडी की। बाद में उन्होंने वाशिंगटन यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर के रूप में कार्य किया। इसके बाद उन्होंने अमेरिकी अन्तरिक्ष एजेंसी नासा में भी कार्य किया। 1971 में वे भारत लौटे और उन्होंने IIT कानपूर, IIT बॉम्बे तथा ISI कलकत्ता में कार्य किया।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

NCPCR ने IIT कानपूर के साथ मिलकर यौन शोषण के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए किट का विकास किया

राष्ट्रीय बाल अधिकार सुरक्षा आयोग (NCPCR) ने IIT कानपूर के साथ मिलकर बच्चों में यौन शोषण के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए एक इंटरैक्टिव किट का विकास किया है, यह व्यक्ति सुरक्षा की दृष्टि के काफी उपयोगी है। इस किट में कार्ड, पोस्टर, एनीमेशन क्लिप्स तथा गेम्स इत्यादि शामिल हैं। इस किट का उपयोग अध्यापकों तथा NGO द्वारा बच्चों को यौन शोषण के बारे में जागरूक करने के लिए किया जा सकता है।

राष्ट्रीय बाल अधिकार सुरक्षा आयोग

राष्ट्रीय बाल अधिकार सुरक्षा आयोग एक वैधानिक संस्था है, इसकी स्थापना संसद के अधिनियम के द्वारा 2007 में बाल आधिकार सुरक्षा आयोग अधिनियम, 2005 के अंतर्गत की गयी थी। यह आयोग केन्द्रीय महिला व बाल विकास मंत्रालय, भारत सरकार के अधीन कार्य करता है। इस आयोग की स्थापना वर्ष 2005 में की गयी थी, परन्तु इस आयोग ने मार्च, 2007 में कार्य करना शुरू किया। इस आयोग का कार्य भारत के संविधान तथा संयुक्त राष्ट्र द्वारा प्रदत बाल अधिकारों का पालन सुनिश्चित करना है।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

Advertisement