israel

अमेरिका और इजराइल ने छोड़ी यूनेस्को की सदस्यता

अमेरिका और इजराइल ने भेदभाव का आरोप लगाते हुए यूनेस्को की सदस्यता छोड़ दी है। दोनों देशों ने अक्टूबर, 2017 में यूनेस्को की सदस्यता छोड़ने की घोषणा की थी। दोनों देशों ने यूनेस्कों पर इजराइल-विरोधी होने का आरोप लगाया है।

अमेरिका द्वारा यूनेस्को की सदस्यता छोड़ने के कारण यूनेस्को की फंडिंग पर काफी प्रभाव पड़ेगा। यूनेस्को की कुल फंडिंग का पांचवा हिस्सा अमेरिका द्वारा दिया जाता है।

संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (UNESCO)

संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) संयुक्त राष्ट्र संगठन है, जो दुनिया भर में ऐतिहासिक और सांस्कृतिक स्थलों को संरक्षित रखने में मदद करता है। यह फ्रांस में स्थित बहु-राष्ट्र एजेंसी है, जिसकी स्थापना वर्ष 1945 में की गयी थी। यह साक्षरता और यौन शिक्षा के साथ-साथ दुनिया भर के देशों में लैंगिक समानता में सुधार को बढ़ावा देता है। यह विश्व धरोहर स्थलों को पहचानने और प्राचीन खंडहर, गांवों और मंदिरों, और ऐतिहासिक स्थलों जैसे सांस्कृतिक और विरासत स्थलों को संरक्षित करने के लिए भी पहचाना जाता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

ऑस्ट्रेलिया ने पश्चिम जेरूसलम को इजराइल की राजधानी के रूप में मान्यता दी

ऑस्ट्रेलिया ने हाल ही में पश्चिम जेरूसलम को इजराइल की राजधानी के रूप में मान्यता दी। हालाँकि ऑस्ट्रेलिया ने अपने दूतावास को तेल अवीव से जेरूसलम स्थानांतरित करने का फैसला नहीं किया है। परन्तु ऑस्ट्रेलिया जेरूसलम में रक्षा व व्यापार कार्यालय खोलेगा। पश्चिमी जेरूसलम 1948 में अरब-इसरायली युद्ध के बाद से इजराइल के नियंत्रण में है।

पृष्ठभूमि

इससे पहले अमेरिका ने इजराइल में अपने कांसुलेट जनरल को दूतावास के साथ विलय करने का निर्णय लिया था। यह निर्णय अमेरिका ने वैश्विक स्तर पर ऑपरेशन में अपनी दक्षता व कुशलता में वृद्धि करने के लिए लिया था। इससे पहले अमेरिका ने दिसम्बर, 2017 में जेरूसलम को इजराइल की राजधानी के रूप में मान्यता दी थी। इसके पश्चात् अमेरिका ने मई, 2018 में अपने दूतावास को तेल अवीव के स्थान पर जेरूसलम में स्थापित किया था। जेरूसलम में कांसुलेट जनरल फिलिस्तीनियों के लिए अमेरिका का सर्वोच्च मिशन था। इस विलय के बाद अमेरिका जेरूसलम में फिलिस्तीनी मामलों की इकाई की स्थापना करेगा, जो वेस्ट बैंक, गाजा तथा जेरूसलम में अपने कार्यक्रम जारी रखेगी।

विवाद

जेरूसलम की स्थिति इजराइल और फिलिस्तीन के बीच सबसे अधिक विवादित मुद्दों में से एक है। फिलिस्तीन अंतर्राष्ट्रीय समर्थन के साथ पूर्वी जेरूसलम को राजधानी बनाना चाहता है। इसके पूर्वी क्षेत्र पर इजराइल ने 1967 में मध्य पूर्व के युद्ध में अपना नियंत्रण स्थापित किया था। इजराइल भी जेरूसलम को अपने देश का अभिन्न हिस्सा मानता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , , , , , ,

Advertisement