Nirmala Sitharaman

वित्त मंत्री ने संसद में प्रस्तुत किया आर्थिक सर्वेक्षण 2020

वित्त वर्ष 2020 के लिए केन्द्रीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने संसद में आर्थिक सर्वेक्षण प्रस्तुत किया। इस सर्वेक्षण में पिछले 12 महीने में भारतीय अर्थव्यवस्था के रुझानों को दर्शाया गया है।

मुख्य बिंदु

  • मौजूदा वित्त वर्ष की विकास दर 5% है।
  • 2020-21 में जीडीपी वृद्धि दर 6% से 6.5% रह सकती है।
  • वित्त वर्ष 2019-20 में औद्योगिक विकास दर 2.5% रही है।
  • वित्त वर्ष 2018-19 में भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 461.2 अरब डॉलर रहा।
  • वित्त वर्ष 2020 में जीएसटी संग्रहण में 4.1% रहा।

थीम : Wealth Creation, Promotion of pro-business policies, strengthening of trust in the economy

अधोसंरचना

इस सर्वेक्षण के अनुसार 2024-25 तक 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था के लक्ष्य को हासिल करने के लिए भारत को 1.4 ट्रिलियन डॉलर व्यय करने होंगे। यह भारत की अधोसंरचना के विकास के लिए ज़रूरी है।

पशुधन

इस सर्वेक्षण के अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों में पशुपालन आय का दूसरा प्रमुख स्त्रोत बन गया है। यह 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य को पूरा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। पिछले पांच वर्षों में पशुपालन क्षेत्र में 7.9% की वृद्धि दर्ज की गयी है।

ग्रीन इंडिया

इस सर्वेक्षण के अनुसार भारत का वन व वृक्ष क्षेत्र 80.73 मिलियन हेक्टेयर हो गया है, यह देश के कुल क्षेत्रफल का 24.46% है। वन क्षेत्र में सबसे ज्यादा वृद्धि करने वाले राज्य है : कर्नाटक, आंध्र प्रदेश तथा जम्मू-कश्मीर। जिन राज्यों के वन क्षेत्र में कमी आई है :  मणिपुर, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश और मिजोरम।

आयुष्मान भारत

इस योजना के तहत 14 जनवरी, 2020 तक 28,005 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर स्थापित किये जा चुके हैं।

स्वास्थ्य पर जेब से किया जाने वाला व्यय

2013-14 में  में स्वास्थ्य क्षेत्र में लोगों द्वारा जेब से किया जाना वाला व्यय 64.2% था,  2016-17 में स्वास्थ्य क्षेत्र में जेब से किया जाना वाला व्यय कम होकर 58.7% रह गया।

रोज़गार सृजन

2017-18 में 2011-12 के मुकाबले वैतनिक कर्मचारियों की संख्या में 5% वृद्धि हुई है। 2.62 करोड़ नई नौकरियों को सृजन किया गया, इसमें 1.21 करोड़ नौकरियों का सृजन ग्रामीण क्षेत्र तथा 1.39 करोड़ नौकरियों का सृजन शहरी क्षेत्र में हुआ।

ग्रीन बांड मार्केट

चीन के बाद भारत ग्रीन बांड के दूसरा सबसे बड़ा उभरता हुआ बाज़ार बना है। 2019 में भारत पर्यावरण के क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा देने के लिए International Platform of Sustainable Finance में शामिल हुआ था।

सेवा क्षेत्र

भारतीय अर्थव्यवस्था में सेवा क्षेत्र का योगदान 55% है, प्रत्यक्ष विदेशी निवेश का दो तिहाई हिस्सा सेवा क्षेत्र को ही प्राप्त होता है। भारत के निर्यात में सेवा क्षेत्र का योगदान 38%है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

विश्व की सबसे शक्तिशाली महिलाओं की सूची में शामिल हुई निर्मला सीतारमण

हाल ही में अमेरिकी की फोर्ब्स पत्रिका ने विश्व की सबसे शक्तिशाली महिलाओं की सूची जारी की, इस सूची में भारत की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को 34वां स्थान प्राप्त हुआ है। इस सूची में ग्रेटा थनबर्ग 100वें स्थान पर हैं।

विश्व की  10 सबसे शक्तिशाली महिलाएं

  1. एंजेला मर्कल (जर्मनी)
  2. क्रिस्टीन लेगार्ड (फ्रांस)
  3. नैंसी पेलोसी (अमेरिका)
  4. उर्सुला वान डेर लेन (बेल्जियम)
  5. मेरी बारा (अमेरिका)
  6. मेलिंडा गेट्स (अमेरिका)
  7. अबीगेल जॉनसन (अमेरिका)
  8. ऐना बाटिन (स्पैंम)
  9. गिनी रोमेटी (अमेरिका)
  10. मर्लिन ह्यूसन (अमेरिका)

निर्मला सीतारमण

निर्मला सीतारमण का जन्म 18 अगस्त, 1959 को तमिलनाडु के मदुरै में हुआ था। उनके पिताजी भारतीय रेलवे में एक कर्मचारी थे। निर्मला सीतारमण ने अपनी स्कूली पढ़ाई मद्रास और तिरुचिरापल्ली से पूरी की। उन्होंने सीतालक्ष्मी रामास्वामी कॉलेज, तिरुचिरापल्ली से अर्थशास्त्र में बैचलर ऑफ़ आर्ट्स की डिग्री प्राप्त की। इसके बाद उन्होंने जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय से अर्थशात्र में मास्टर्स इन आर्ट्स तथा एम.फिल की। वे पीएचडी के लिए एनरोल हुई थीं, परन्तु वे पारिवारिक कारणों की वजह से इसे पूरा नहीं कर सकीं।

निर्मला सीतारमण 2008 में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुई थीं, उन्होंने पार्टी के प्रवक्ता के रूप में कार्य किया। 2014 में उन्हें प्रधानमंत्री मोदी की प्रथम सरकार में मंत्री चुना गया था। 3 सितम्बर, 2017 को उन्हें देश रक्षामंत्री नियुक्त किया गया था।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

Advertisement