PM-CARES

50,000 मेड-इन-इंडिया वेंटिलेटर के लिए PM CARES फंड से 2000 करोड़ रुपये आवंटित किये गये

भारत सरकार ने आत्मनिर्भर भारत  बनाने के लिए 50,000 मेड-इन-इंडिया वेंटिलेटर के लिए 2000 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। 2000 करोड़ रुपये की पूरी राशि पीएम केयर्स फंड ट्रस्ट से आवंटित की गई है।  इन वेंटिलेटरों को देश भर में प्राथमिकता के आधार पर विभिन्न सरकारी-संचालित COVID अस्पतालों में आपूर्ति की जाएगी।

आज तक, कुल 1340 वेंटिलेटर डिलीवर किये जा चुके हैं, जबकि कुल 2923 वेंटीलेटर निर्मित किए गए हैं। 30 जून तक 14,000 वेंटिलेटर देश भर में विभिन्न सरकारी COVID अस्पतालों में वितरित किये जा चुके हैं। कुल 50,000 वेंटिलेटर में से 30,000 का निर्माण सरकारी स्वामित्व वाली कंपनी-भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (BEL) द्वारा किया जाएगा।

प्रवासी मजदूरों के लिए पीएम केयर्स

पीएम केयर्स फण्ड से देश में प्रवासी मजदूरों के कल्याण (भोजन, आवास, चिकित्सा उपचार आदि की व्यवस्था) के लिए 1000 करोड़ रुपये की राशि भी जारी की गई। इसमें से महाराष्ट्र को सबसे अधिक 181 करोड़ रुपये प्रदान किये गये, उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु को क्रमशः 103 रुपये और 83 करोड़ रुपये प्रदान किये गये।

पीएम केयर्स

PM-CARES का पूर्ण स्वरुप Prime Ministers Citizen Assistance and Relief in Emergency Situations है। यह एक समर्पित राष्ट्रीय कोष है, इसका उद्देश्य संकट स्थिति या आपातकालीन स्थिति के दौरान प्रभावित लोगों की मदद करने के लिए धन जुटाना है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

COVID-19: PM CARES फंड से 3,100 करोड़ रुपये आवंटित किए गए

PM CARES फंड ट्रस्ट 27 मार्च, 2020 को बनाया गया था। इसकी अध्यक्षता प्रधानमंत्री मोदी कर रहे हैं। अन्य सदस्यों में गृह मंत्री, रक्षा मंत्री और वित्त मंत्री शामिल हैं।

वेंटीलेटर

आवंटित धनराशि का उपयोग 50,000 वेंटिलेटर खरीदने के लिए किया जाएगा। वेंटिलेटर 2,000 करोड़ रुपये की लागत से खरीदे जाएंगे। इन वेंटिलेटरों को सरकार द्वारा संचालित COVID-19 अस्पतालों में भेजा जाएगा।

प्रवासी

राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को लगभग 1000 करोड़ रुपये प्रदान किए जाएंगे। यह राशि नगर निगम आयुक्तों और जिला कलेक्टरों को दी जाएगी। इसका उपयोग भोजन की व्यवस्था, परिवहन व्यवस्था और प्रवासियों को चिकित्सा उपचार प्रदान करने के लिए किया जाएगा।

यह 1000 करोड़ 2011 की जनगणना और COVID-19 से प्रभावित व्यक्तियों की संख्या के आधार पर राज्यों में विभाजित किया जाएगा।

टीके

COVID-19 के खिलाफ टीका वर्तमान की सबसे महत्वपूर्ण जरूरत है। वैक्सीन डेवलपर्स का समर्थन करने के लिए 100 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

PM CARES फंड अलग कैसे है?

PM CARES फंड COVID-19 स्थिति के लिए समर्पित था। दूसरी ओर, प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (पीएमएनआरएफ) सभी प्राकृतिक आपदाओं के लिए है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement