Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana

प्रवासी श्रमिकों को आयुष्मान भारत योजना के तहत कवर किया जाएगा

भारत सरकार ने अपने प्रमुख कार्यक्रम प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत) को प्रवासी श्रमिकों के लिए विस्तारित किया है। इससे पहले भारत सरकार ने घोषणा की थी कि आयुष्मान भारत लाभार्थियों को मुफ्त COVID-19 परीक्षण की सुविधा प्राप्त होगी।

मुख्य बिंदु

यह निर्णय उन प्रवासी श्रमिकों की मदद करने के लिए लिया गया है जो लॉकडाउन के कारण अपनी नौकरी और आजीविका खो चुके हैं। इस योजना को लागू करने वाला राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण पात्र प्रवासियों को ई-कार्ड जारी करेगा।

आयुष्मान भारत क्यों?

भारत सरकार ने आयुष्मान भारत को कई कारणों से प्रवासी श्रमिकों की मदद के लिए चुना है। मुख्य कारण यह है कि लौटने वाले श्रमिक ग्रामीण भारत के हैं। और आयुष्मान भारत के लाभार्थियों में से कम से कम 80% ग्रामीण भारत से हैं।

आयुष्मान भारत

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना एक कागज रहित और कैशलेस योजना है, जिसका उद्देश्य प्रति वर्ष प्रति परिवार 5 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य कवर प्रदान करना है। इस योजना के तहत लगभग 53 करोड़ लाभार्थियों की पहचान की गई है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement