अंजू बॉबी जॉर्ज (Anju Bobby George) ने वर्ल्ड एथलेटिक्स से वुमन ऑफ द ईयर का पुरस्कार (Woman of the Year Award) जीता

भारतीय एथलीट अंजू बॉबी जॉर्ज (Anju Bobby George) ने वर्ल्ड एथलेटिक्स से वूमन ऑफ द ईयर (Woman of the Year Award) का पुरस्कार जीता है। उन्होंने युवा लड़कियों को खेल के लिए तैयार करने के लिए पुरस्कार जीता है।

अंजू की उपलब्धियां

  • वह 2005 IAAF वर्ल्ड एथलेटिक्स फ़ाइनल में स्वर्ण पदक विजेता हैं।
  • वह 2013 में पेरिस में आयोजित विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में लंबी कूद में कांस्य पदक जीतने वाली पहली भारतीय एथलीट थीं।
  • 2004 के ओलंपिक में, वह छठे स्थान पर रही।

पुरस्कार

  • अंजू को 2002 में अर्जुन पुरस्कार, 2004 में पद्मश्री, 2003 में खेल रत्न से सम्मानित किया गया था।
  • 2021 में, उन्होंने सर्वश्रेष्ठ एथलीट की श्रेणी में बीबीसी लाइफ़टाइम अचीवमेंट पुरस्कार जीता।

वुमन ऑफ द ईयर अवार्ड

2016 में, उन्होंने युवा लड़कियों के लिए एक खेल अकादमी बनाई। इसके माध्यम से उन्होंने भारत को खेलों में आगे बढ़ने में मदद की है और अधिक महिलाओं को भी उनके नक्शेकदम पर चलने के लिए प्रेरित किया है। उन्हें लैंगिक समानता की वकालत करने के लिए पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया है।

अंजू बॉबी जॉर्ज (Anju Bobby George)

अंजू का जन्म केरल के कोट्टायम के चीरांचिरा गांव में हुआ था। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत हेप्टाथलॉन से की थी। बाद में उन्होंने दिल्ली जूनियर एशियाई चैम्पियनशिप, दक्षिण एशियाई संघ खेलों (नेपाल में आयोजित), मैनचेस्टर में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में पदक जीते और बुसान में आयोजित एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता। वर्तमान में, अंजू TOPS (टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम) की चेयरपर्सन हैं और खेलो इंडिया प्रोजेक्ट की कार्यकारी सदस्य भी हैं।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments