अप्रैल-फरवरी 20-21 के दौरान प्रसंस्कृत खाद्य उत्पादों का निर्यात 27% बढ़ा

अप्रैल-फरवरी 2020-21 के दौरान प्रसंस्कृत खाद्य उत्पादों का निर्यात 26.51% बढ़ा है। इस दौरान उनका निर्यात 43,798 करोड़ रुपये का रहा।

प्रसंस्कृत खाद्य उत्पादों का निर्यात

  • 2020-21 के दौरान निर्यात किए गए प्रमुख खाद्य उत्पादों में सब्जियां, दालें, प्रसंस्कृत फल और जूस, मूंगफली, तेल भोजन, मादक पेय शामिल थे।
  • 2020-21 में प्रसंस्कृत सब्जियों और मादक पेय का निर्यात 40% तक बढ़ गया।
  • APEDA के अनुसार, प्रसंस्कृत खाद्य उत्पादों का निर्यात 2021-22 में जारी रहेगा। यह क्योंकि प्रसंस्कृत फल और सब्जियों, दालों की मांग मध्य पूर्व, अमेरिका, ब्रिटेन जैसे बाजारों में बढ़ रही है।

खाद्य प्रसंस्करण उद्योग में भारत सरकार के कदम

  • मार्च 2021 में, भारत सरकार ने उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन योजना को मंजूरी दी।इसके माध्यम से, भारत सरकार का लक्ष्य खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र को 10,900 करोड़ रुपये का प्रोत्साहन प्रदान करना है। इस योजना के तहत प्रोत्साहन का भुगतान छह साल के लिए किया जायेगा।
  • देश में खाद्य प्रसंस्करण केंद्रों को विकसित करने के लिए प्रधानमंत्री सम्पदा योजना (Pradhan Mantri SAMPADA Yojana) लागू की जा रही है। SAMPADA का अर्थ  Scheme for Agro-Marine Processing and Development of Agro-Processing Clusters है। यह योजना मेगा फूड पार्क बनाएगी।
  • 2020 में, भारत सरकार ने 134 खाद्य प्रसंस्करण परियोजनाओं को मंजूरी दी। इसमें 21 कृषि-प्रसंस्करण क्लस्टर, 43 खाद्य प्रसंस्करण इकाइयां, 47 कोल्ड चेन, 3 ऑपरेशन ग्रीन्स और बारह खाद्य परीक्षण प्रयोगशालाएं शामिल हैं।

भारत में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग

खाद्य प्रसंस्करण उद्योग में एफडीआई प्रवाह 2018-19 में 628.24 मिलियन अमरीकी डालर से बढ़कर 2019-20 में 904.7 मिलियन अमरीकी डालर हो गया।

Categories:

Tags: , , , ,

« »

Advertisement

Comments