अमेरिका की अंतर्राष्ट्रीय जलवायु वित्त योजना (International Climate Finance Plan)

अमेरिकी राष्ट्रपति ने हाल ही में Leader’s Summit on Climate में देश की नई वित्त योजना की घोषणा की। इस शिखर सम्मेलन की मेजबानी अमेरिका ने की थी।

योजना के बारे में

  • 2005 के स्तरों की तुलना में अमेरिका ने अपने उत्सर्जन में 50% से 52% की कटौती करने का एक नया लक्ष्य रखा है।
  • अमेरिका 2024 तक अपनी जलवायु फंडिंग को दोगुना कर देगा। बाद में अमेरिका अपनी जलवायु फंडिंग को तीन गुना करेगा।
  • United States Agency for International Development (USAID) नवंबर 2021 में COP26 पर एक नई जलवायु परिवर्तन रणनीति जारी करेगी।
  • United States International Development Finance Corporation अपनी योजना में जलवायु को शामिल करने के लिए अपनी विकास रणनीति में बदलाव करेगा।यह जलवायु शमन और अनुकूलन को प्राथमिकता देगा। यह पहली बार है जब अमेरिका अपनी विकास रणनीति में जलवायु को शामिल कर रहा है।
  • Millennium Change Corporation जलवायु स्मार्ट विकास और स्थायी बुनियादी ढांचे पर ध्यान केंद्रित करेगा।इसका उद्देश्य जलवायु से संबंधित निवेशों में अपनी फंडिंग का 50% से अधिक उपयोग करना है।
  • यह योजना कार्बन-सघन जीवाश्म ईंधन-आधारित ऊर्जा उत्पादों में अंतर्राष्ट्रीय निवेश को समाप्त करने पर भी ध्यान केंद्रित करेगी।

पृष्ठभूमि

अमेरिका चीन के बाद दुनिया का दूसरा प्रमुख उत्सर्जक है। अमेरिका को अंतरराष्ट्रीय जलवायु वित्त में अपने हिस्से के रूप में 800 बिलियन अमरीकी डालर का योगदान करना होगा।

अमेरिकी अंतर्राष्ट्रीय विकास वित्त निगम (US International Development Finance Corporation)

यूएस इंटरनेशनल डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन कम आय और मध्यम आय वाले देशों में निजी विकास परियोजनाओं को वित्त प्रदान करने के लिए जिम्मेदार है। इसका गठन 2019 में हुआ था।

Categories:

Tags: , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments