अर्थशास्त्र के लिए नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize in Economics) 2021 की घोषणा की गयी

इस बार तीन अर्थशास्त्रियों डेविड कार्ड (David Card), जोशुआ अंग्रिस्ट (Joshua Angrist) और गुइदो इम्बेन्स (Guido Imbens) को अर्थशास्त्र के लिए नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize in Economics) 2021 से सम्मानित किया गया है।

मुख्य बिंदु

डेविड कार्ड एक अमेरिकी कनाडाई, जोशुआ एंग्रिस्ट एक इजरायल-अमेरिकी और गुइदो इम्बेन्स एक डच-अमेरिकी अर्थशास्त्री हैं, इस बार अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार  श्रम बाजार और “प्राकृतिक प्रयोगों” में अंतर्दृष्टि के लिए प्रदान किया गया है।

इस पुरस्कार का आधा हिस्सा डेविड कार्ड (कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, बर्कले के एक प्रोफेसर) को “श्रम अर्थशास्त्र में उनके अनुभवजन्य योगदान के लिए” प्रदान किया गया। डेविड कार्ड का काम न्यूनतम मजदूरी, आप्रवास और शिक्षा के श्रम बाजार प्रभावों पर केंद्रित है।

पुरस्कार अन्य आधा हिस्सा जोशुआ एंग्रिस्ट (मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (MIT) के प्रोफेसर) और स्टैनफोर्ड के प्रोफेसर गुइदो इम्बेन्स को प्रदान किया गया, उन्हें “कारण संबंधों के विश्लेषण में उनके पद्धतिगत योगदान के लिए” इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

अर्थशास्त्र के लिए नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize in Economics)

अर्थशास्त्र के लिए नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize in Economics) पहली बार 1969 में प्रदान किया गया था। यह पुरस्कार Royal Swedish Academy of Sciences द्वारा प्रदान किया जाता है। 1969 में जेन टिनबर्जन और रैगन्र फ़्रिश इस पुरस्कार के पहले विजेता थे। इस पुरस्कार का आधिकारिक नाम Sveriges Riksbank Prize in Economic Sciences in Memory of Alfred Nobel है।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments

  • Arijit Das
    Reply

    All information is to very helpful to me, thank you

  • Anju bishnoi
    Reply

    Thanks you

  • Kudum
    Reply

    Thank you

  • Virendra Singh
    Reply

    Very very useful to all learners…

  • Mantu Yadav
    Reply

    Thank you

  • G.kalyani
    Reply

    Thank you