आज़ादी सैट (AzaadiSAT) : अंतरिक्ष में इसरो का सबसे छोटा रॉकेट

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) 7 अगस्त, 2022 को ‘आज़ादी सैट’ ले जाने वाले अपने सबसे छोटे वाणिज्यिक रॉकेट ‘स्मॉल सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल (SSLV)’ को लॉन्च करेगा। इसे अंतरिक्ष में तिरंगा फहराने के लिए लॉन्च किया जाएगा। इसे सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र, श्रीहरिकोटा से लॉन्च किया जाएगा।

मुख्य बिंदु

  • भारत के ‘आज़ादी का अमृत महोत्सव’ के उत्सव को चिह्नित करने के लिए SSLV ‘आज़ादी सैट’ नामक एक सह-यात्री उपग्रह ले जाएगा।
  • यह विशेष रूप से 75वें स्वतंत्रता दिवस के उत्सव के लिए तैयाr किया गया है।
  • यह वैज्ञानिक सोच को प्रोत्साहित करेगा और युवा लड़कियों के लिए अपने करियर के रूप में ‘अंतरिक्ष अनुसंधान’ को चुनने के अवसर पैदा करेगा।

आज़ादी सैट (AzaadiSAT)

  • आज़ादी सैट में 75 पेलोड शामिल हैं।
  • ये पेलोड भारत के 75 ग्रामीण सरकारी स्कूलों की 750 युवा छात्राओं द्वारा बनाए गए हैं।
  • यह 8 किलोग्राम का क्यूबसैट है। 75 पेलोड में से प्रत्येक का वजन लगभग 50 ग्राम है।
  • यह मिशन फेमटो-प्रयोगों का संचालन करेगा।

‘आज़ादी सैट’ में एक सॉलिड-स्टेट पिन डायोड-आधारित विकिरण काउंटर भी शामिल है, जो अपनी कक्षा में आयनकारी विकिरण को मापेगा, साथ ही इसमें एक लंबी दूरी के ट्रांसपोंडर भी है। इसरो अंतरिक्ष किड्ज इंडिया द्वारा विकसित ग्राउंड सिस्टम का उपयोग टेलीमेट्री और आजादीसैट के साथ कक्षा में संचार स्थापित करने के लिए करेगा।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments