आरबीआई ने बैंक क्रेडिट और जमा पर डेटा जारी किया

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने हाल ही में बैंक क्रेडिट और जमा पर अपना डेटा जारी किया है।

मुख्य बिंदु

  • इस डेटा से पता चलता है कि, बैंक क्रेडिट में 93 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जो अब 29 जनवरी, 2021 को समाप्त हुए पखवाड़े के लिए 5 लाख करोड़ रुपये है।
  • इसमें यह भी बताया गया है कि बैंकों में जमा राशि में 06 प्रतिशत की वृद्धि हुई है और इसी अवधि के लिए रूपये 98 लाख करोड़ रुपये है।
  • इस प्रकार, 31 जनवरी, 2020 को समाप्त हुए पखवाड़े में, बैंक क्रेडिट 5 लाख करोड़ है, जबकि जमा राशि 24 लाख करोड़ है।
  • आरबीआई के आंकड़ों से पता चलता है कि वित्त वर्ष 2020-2021 के पहले नौ महीनों के दौरान बैंक ऋण में 2 प्रतिशत की वृद्धि हुई जबकि जमा में 8.5 प्रतिशत की वृद्धि हुई।
  • दिसंबर 2020 में बैंकों की गैर-खाद्य ऋण वृद्धि 9 प्रतिशत थी।
  • यह इस बात पर भी प्रकाश डालता है कि कृषि और संबद्ध गतिविधियों में ऋण की वृद्धि दर बढ़कर 4 प्रतिशत हो गई है, जबकि दिसंबर 2019 में यह 5.3 प्रतिशत थी।
  • बड़े उद्योगों के ऋण में 4 प्रतिशत की कमी के कारण उद्योग के ऋण में 1.2 प्रतिशत की कमी आई है।
  • इसके अलावा, चालू वित्त वर्ष (2020-2021) में व्यक्तिगत ऋण में 5 प्रतिशत की कमी आई है।

बैंक क्रेडिट

यह क्रेडिट की राशि को संदर्भित करता है जो किसी भी बैंकिंग संस्थान से किसी व्यवसाय या व्यक्ति के लिए उपलब्ध है।  इस प्रकार, किसी व्यक्ति या व्यवसाय द्वारा किसी भी बैंक या वित्तीय संस्थान से उधार ली जा सकने वाली कुल धनराशि को बैंक क्रेडिट कहा जाता है। उधारकर्ता का बैंक क्रेडिट ऋण चुकाने की उनकी क्षमता पर निर्भर करता है। यह बैंकों या वित्तीय संस्थानों द्वारा उधार देने के लिए उपलब्ध ऋण की कुल राशि पर भी निर्भर करता है।

Categories:

Tags: , , ,

« »

Advertisement

Comments