उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में शहीद अशफाक उल्ला खान जूलॉजिकल पार्क का उद्घाटन किया

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में शहीद अशफाक उल्ला खान प्राणि उद्यान (Shaheed Ashfaq Ulla Khan Zoological Park) का उद्घाटन किया। यह पूर्वांचल में पहला और राज्य में तीसरा चिड़ियाघर है।

मुख्य बिंदु

अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि इस चिड़ियाघर का निर्माण चार साल के रिकॉर्ड समय में पूरा किया गया है। उन्होंने कहा कि चिड़ियाघर न केवल लोगों को मनोरंजन और शिक्षा प्रदान करेगा बल्कि इसने क्षेत्र में पर्यटन की संभावनाओं को भी खोल दिया है।

इस चिड़ियाघर का नाम महान स्वतंत्रता सेनानी शहीद अशफाक उल्ला खान (Shaheed Ashfaq Ullah Khan) के नाम पर रखा गया है।

गोरखपुर चिड़ियाघर की नींव एक दशक पहले मई, 2011 में रखी गई थी लेकिन इसके निर्माण में वर्ष 2017 के बाद तेजी आई। जानवरों को चिड़ियाघर में लाने का काम पिछले महीने शुरू हुआ और अब तक 153 जंगली पक्षी और 31 प्रजातियों के जानवर यहाँ आ चुके हैं। वर्तमान में, आगंतुक चिड़ियाघर में शेर, बाघ, तेंदुआ, दरियाई घोड़ा, हिरण, चीतल जैसे जानवरों को देख सकते हैं। चिड़ियाघर में अत्याधुनिक सुविधाओं के साथ एक 7D थिएटर भी है जहां दर्शकों को 13 प्रभावों का अनुभव होगा, जैसे कि बारिश, बिजली, कोहरे, धुआं और खुशबू इत्यादि।

अशफाक उल्ला खान (Ashfaq Ullah Khan)

अशफाक उल्ला खान एक महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानी थे। उनका जन्म 22 अक्टूबर, 1900 को ब्रिटिश भारत के संयुक्त प्रांत के शाहजहांपुर में हुआ था। वे क्रांतिकारी संगठन हिंदुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन (Hindustan Republican Association) के साथ जुड़े हुए थे। उन्हें काकोरी काण्ड में उनकी भूमिका के लिए जाना जाता है। उन्हें ब्रिटिश सरकार द्वारा फैजाबाद जेल में बंद किया गया था, जहाँ पर उन्हें 19 दिसम्बर, 1927 को फांसी की सजा दी गयी थी।

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments