एशियाई विकास आउटलुक जारी किया गया, जानिए भारतीय अर्थव्यवस्था में बारे में क्या अनुमान लगाये गये हैं?

एशियाई विकास बैंक ने हाल ही में एशियन डेवलपमेंट आउटलुक जारी किया है। इस आउटलुक में एशियाई विकास बैंक ने अनुमान लगाया कि भारतीय अर्थव्यवस्था वित्त वर्ष 2020-21 में 8% तक संकुचित होगी। इससे पहले बैंक द्वारा अनुमान लगाया गया था कि भारतीय अर्थव्यवस्था 9% संकुचित होगी। यह बैंक द्वारा भारत का जीडीपी पूर्वानुमान है। वृद्धि का अनुमान 8% रखा गया है।

इस आउटलुक के अनुसार, विकासशील एशिया में 2020 में 0.4% संकुचन और 2021 में 6.8% की वृद्धि होगी। एशियाई विकास बैंक ने यह भी घोषणा की कि वित्त वर्ष 2020-21 में दक्षिण एशिया की वृद्धि 7.2% होगी।

मुख्य बिंदु

एशियाई विकास बैंक द्वारा जारी एशियन डेवलपमेंट आउटलुक के अनुसार, आने वाले महीनों में मुद्रास्फीति कम होने की उम्मीद है। इस रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि भारत में आपूर्ति श्रृंखला व्यवधान के कारण 2020 के पहले सात महीनों में खाद्य मुद्रास्फीति 9.1% तक बढ़ गयी थी।

इस रिपोर्ट अनुसार, भारत में कृषि और विनिर्माण में वृद्धि हो रही है और निश्चित निवेश घट रहा है। दूसरी तिमाही में शुद्ध निर्यात में 3.4% की वृद्धि हुई। भारतीय रिजर्व बैंक ने अपनी हालिया मौद्रिक नीति समीक्षा के दौरान यह भी घोषणा की है कि भारत प्रत्याशित रूप से तेजी से रिकवर कर रहा है।

एशियाई विकास बैंक (ADB)

एडीबी एक क्षेत्रीय विकास बैंक है जिसका उद्देश्य एशिया में सामाजिक और आर्थिक विकास को बढ़ावा देना है। इसकी स्थापना दिसंबर 1966 में की गयी थी। इसका मुख्यालय मनीला (फिलीपींस) में स्थित है। इसके कुल 68 सदस्य हैं, जिनमें से 48 एशिया और प्रशांत क्षेत्र जबकि बाकी 19 अन्य क्षेत्र के हैं। एडीबी का मुख्य उद्देश्य सामाजिक और आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए ऋण, तकनीकी सहायता, अनुदान और इक्विटी निवेश प्रदान करके अपने सदस्यों और भागीदारों की सहायता करना है।

Categories:

Tags: , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments