एशियाई शेर COVID पॉजिटिव पाए गये

हैदराबाद नेहरू प्राणी उद्यान (Hyderabad Nehru Zoological Park) में 8 एशियाई शेर  COVID -19 के लिए सकारात्मक पाए गये हैं। यह पहली बार है जब भारत में जानवारों में इस वायरस के संक्रमण का पता चला है।

एशियाई शेर (Asiatic Lions)

  • एशियाई शेर उन पांच पैंथराइन बिल्लियों (Pantherine cats) में से एक हैं जो भारत के मूल निवासी हैं।अन्य चार भारतीय स्नो लेपर्ड, बंगाल टाइगर, क्लाउडेड लेपर्ड और भारतीय तेंदुए हैं।
  • एक नर एशियाई शेरों की सीमा 144 किलोमीटर से 230 किलोमीटर के बीच होती है।
  • गिर नेशनल पार्क (Gir National Park) दुनिया में एशियाई शेरों के लिए एकमात्र ज्ञात निवास स्थान है।
  • एशियाई शेरों का प्रमुख खतरा प्राकृतिक आपदा और प्लेग जैसे अप्रत्याशित घटनाओं के लिए इसकी भेद्यता है।हालाँकि, 2010 से इन शेरों की आबादी लगातार बढ़ रही है।

एशियाई शेरों की जनगणना

  • जून 2020 में, गुजरात वन विभाग ने घोषणा की कि गिर वन क्षेत्र में एशियाई शेरों की आबादी 2015 में 523 से बढ़कर 674 हो गई। 2015 में, Canine Distemper Virus (CDV) के प्रकोप के कारण कई शेरों की मौत हो गई थी।2018 में बेबीसियोसिस  (Babesiosis) के कारण कई अन्य शेरों की मौत हो गई थी। बाबियोसिस प्रकोप 2020 में भी रिपोर्ट किया गया था।
  • 1936 में जूनागढ़ के नवाब द्वारा एशियाई शेरों की पहली जनगणना की गई थी।
  • नियमित एशियाई शेर की जनगणना पांच साल में एक बार की जाती है।अंतिम जनगणना 2015 में आयोजित की गई थी। अगली जनगणना 2020 में होने वाली थी, लेकिन COVID-19 के कारण स्थगित कर दी गई थी।

एशियाई शेरों की सुरक्षा स्थिति

  • वन्यजीव (संरक्षण) अधिनियम, 1971: अनुसूची I
  • CITES: परिशिष्ट I
  • IUCN: संकटग्रस्त

एशियाई शेर प्रजनन परियोजना (Asiatic Lion Reintroduction Project)

यह जीवित आबादी की रक्षा के लिए किया गया था। इस परियोजना में पालपुर-कुनो वन्यजीव अभयारण्य (Palpur-Kuno Wildlife Sanctuary) में एशियाई शेरों को फिर से शामिल करने का प्रस्ताव था।

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments