ऑपरेशन मेघ चक्र (Operation Megh Chakra) क्या है?

CBI ने ऑनलाइन बाल यौन शोषण सामग्री के प्रसार का मुकाबला करने के लिए ऑपरेशन मेघ चक्र शुरू किया है।

मुख्य बिंदु 

  • केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने बाल यौन शोषण सामग्री (child sexual abuse material – CSAM) के प्रसार और साझा करने के खिलाफ एक राष्ट्रव्यापी अभियान के तहत पूरे भारत में 56 स्थानों पर तलाशी करने के लिए 24 सितंबर, 2022 को ऑपरेशन मेघ चक्र शुरू किया।
  • CBI को न्यूजीलैंड में अधिकारियों से मिली जानकारी के आधार पर इंटरपोल की सिंगापुर विशेष इकाई से खुफिया जानकारी मिलने के बाद यह ऑपरेशन शुरू किया गया था।
  • CBI ने दो मामले दायर किये हैं जिसमें कहा गया है कि बड़ी संख्या में भारतीय नागरिक क्लाउड-आधारित स्टोरेज का उपयोग करके CSAM के ऑनलाइन सर्कुलेशन, डाउनलोडिंग और ट्रांसमिशन में शामिल हैं।
  • तलाशी हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, गुजरात, गोवा, कर्नाटक, तेलंगाना, तमिलनाडु और अन्य स्थानों में की गई।
  • छापेमारी में संदिग्धों के मोबाइल फोन और लैपटॉप जैसे इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जब्त किए गए।
  • इन छापेमारी में भारी मात्रा में चाइल्ड पोर्नोग्राफी सामग्री बरामद हुई है।
  • वर्तमान में 50 संदिग्धों से बाल पीड़ितों और दुर्व्यवहार करने वालों की पहचान के बारे में पूछताछ की जा रही है।
  • CBI ने पिछले साल ऑपरेशन कार्बन कोड नाम के तहत इसी तरह की कवायद शुरू की थी।
  • ऑपरेशन कार्बन के तहत पूरे भारत में 76 स्थानों पर छापे मारे गए।
  • संदिग्धों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के प्रासंगिक प्रावधानों के तहत मामले दर्ज किए गए थे।

Categories:

Tags: , , , ,

« »

Advertisement

Comments